GiridihJharkhand

गिरिडीह : अनुबंधित कर्मियों के हड़ताल पर जाने से स्वास्थ विभाग की चिंता बढ़ी

Giridih : पांबदियों में मिली छूट के कारण कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है. दूसरी तरफ गिरिडीह में राष्ट्रीय स्वास्थ मिशन एनएचएम के अनुबंधित कर्मी पिछले चार दिनों से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं. पूरे जिले में करीब 500 सौ से अधिक नेशनल हेल्थ मिशन के अनुबंधित कर्मी हड़ताल पर हैं.

समान काम के आधार पर समान वेतन समेत अन्य मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर उतरे इन कर्मियों के कारण स्वास्थ विभाग से जुड़े कई काम पूरी तरह ठप पड़ चुके है. जिसमें ग्रामीण इलाकों से लेकर शहरी क्षेत्र के मातृत्व शिशु स्वास्थ केन्द्र में गर्भवती महिलाकी जांच प्रभावित हुई है.

advt

इसे भी पढ़ें : फिल्म निर्माण सिर्फ मनोरंजन का साधन नहीं बल्कि भारतीय संस्कृति का वाहक है : डॉ करूणेश

बच्चों के नियमित टीकाकरण अभियान पर भी असर पड़ा है. इतना ही नहीं कोरोना महामारी से लड़ाई का हथियार वैक्सीनेशन पर भी इस हड़ताल का असर काफी हद तक हुआ है. हालांकि स्वास्थ विभाग के अधिकारियों का दावा है कि स्थाई एएनएम द्वारा वैक्सीनेशन का कार्य कराया जा रहा है.

लेकिन सबसे अधिक आशंका महामारी को लेकर है. क्योंकि एनएचएम के अनुबंधित स्वास्थ कर्मी की हड़ताल में इसे जुड़े कुछ चिकित्सक भी शामिल है. जिन पर कोरोना संक्रमितों के इलाज और देखभाल का जिम्मा है. जबकि वैक्सीनेशन का आंकड़ा भी इन कर्मियों के जिम्मे ही है.

इसे भी पढ़ें : रिसालदार बाबा दरगाह पहुंचे सीएम हेमंत सोरेन, राज्य की खुशहाली की मांगी दुआ

पूरे जिले में कितने लाभार्थियों को वैक्सीन लगा है. इसका कोई साफ आंकड़ा अभी स्वास्थ विभाग के पास नहीं है. लिहाजा, हेमंत सरकार इन अनुबंधित कर्मियों की मांगों पर अगर वक्त पर उचित निर्णय नहीं लेती है, तो हालात समझे जा सकते हैं. क्योंकि दुर्गा पूजा के बाद से आंकड़े बता रहे हैं कि महामारी से ग्रसित संक्रमितों का आंकड़ा एक बार फिर बढ़ना शुरू हो गया है.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: