GiridihJharkhand

गिरिडीह : #DigitalIndia का काम कर रही कंपनी के चार कर्मियों को बच्चा चोर समझ ग्रामीणों ने पीटा

Giridih : बच्चा चोर के अफवाह में इस बार गिरिडीह के गांवा थाना क्षेत्र के गडगी गांव के ग्रामीणों के हत्थे एक निजी कंपनी के तीन सुपरवाइजर समेत चार कर्मी चढ़ गये. चारों कर्मियों की बुरी तरह पिटाई कर दी गयी.

चारों कर्मी कंपनी के जिस वाहन में थे, उसे भी ग्रामीणों ने क्षतिग्रस्त कर दिया. क्षतिग्रस्त वाहन के शीशे का एक टुकड़ा कंपनी के चालक गिरिडीह के बराकर निवासी अनसार अली की गर्दन में जा धंसा.

इस दौरान चारों कर्मियों को बचाने पहुंचे गांवा के खरसान पंचायत के मुखिया मकसूद आलम समेत गांव के चिकित्सक डा सबा अहमद को भी ग्रामीणों ने पीट दिया. मुखिया मकसूद आलम का हाथ फ्रेक्चर हो गया.

इसे भी पढ़ें : #Economicslowdown : सड़कों से गायब होने लगे ट्रक, सात करोड़ परिवारों की रोजी-रोटी संकट में

पिटाई करने वालों की पहचान

चारों कर्मियों समेत मुखिया के जख्मी और वाहन के क्षतिग्रस्त होने की पुष्टि गांवा थाना प्रभारी पुरुषोतम कुमार ने करते हुए बताया कि जिन लोगों ने बच्चा चोरी के अफवाह में चार कर्मियों की पिटाई की है उनमें कुछ लोगों की पहचान हो चुकी है. वरीय पदाधिकारियों के निर्देश पर दोषी भीड़ में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी.

बच्चा चोरी के बाद अफवाह गांवा के माल्डा, पीहरा और खरसान पंचायत समेत अन्य इलाकों में इतनी तेजी से फैली कि कुछ ही पलों में गडगी गांव में हजारों ग्रामीणों की भीड़ जुट गयी. इस दौरान बौखलायी भीड़ ने चारों कर्मियों की पिटाई करने के साथ उनके वाहन को भी क्षतिग्रस्त कर दिया.

इसे भी पढ़ें : जमशेदपुर :  जिले के 154 स्कूल अप-टु-द-मार्क नहीं, शिक्षा विभाग की ऑडिट कराने की योजना

ये है पूरा मामला

जानकारी के अनुसार गांवा के खरसान पंचायत के पंचायत भवन में केन्द्र सरकार के डिजीटल इंडिया कार्यक्रम के तहत बीएसएनएल की पेटी कांट्रेक्टर एजेंसी रांची की बाबा प्रोजेक्ट प्राईवेट लिमिटेड द्वारा कुछ टेक्नीकल काम निपटा रही थी.

तभी कुछ अज्ञात बाइक सवार युवक आये और कंपनी के सुपरवाइजर और बिहार के आरा निवासी जयशंकर प्रसाद,  दीपक पांडेय, रांची के कैथी अंसारी और अनसार अंसारी के पास पहुंचते ही कहा कि कंपनी के चारों कर्मियों को लेकर गडगी गांव में बच्चा चोर की अफवाह कुछ महिलाओं द्वारा फैलायी गयी है. महिलाएं व गांव के ग्रामीण उन लोगों को तलाश रहे है.

सफाई देने का नहीं हुआ कोई असर

सुपरवाइजर जयशंकर प्रसाद ने बताया कि वे लोग तो अपनी कंपनी बाबा प्रोजेक्ट कंपनी द्वारा खरसान पंचायत भवन के समीप डिजीटल इंडिया का टावर खड़ा करने और सिस्टम लगाने को लेकर लैंडमार्क उठा रहे हैं और जीपीएस सेट कर रहे है.

इसके बावजूद बाइक सवार युवकों के दबाव डालने के बाद चारों अपने कंपनी के वाहन से गडगी गांव पहुंचे, जहां ग्रामीणों ने पूछताछ करते ही चारों की पिटाई शुरू कर दी. इसी बीच जानकारी मिलते ही गांवा थाना की पुलिस भी मौके पर पहुंची और किसी तरह चारों को सुरक्षित निकाला.

इसे भी पढ़ें : झारखंड सरकार ने दिया था एक मंच से 26674 युवाओं को रोजगार, #LimcaBookofRecords में दर्ज

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: