GiridihJharkhand

गिरिडीह :  चार दिनों की मूसलाधार बारिश से पहाड़पुर #bridge धंसा, आठ गांवों से धनवार का संपर्क टूटा

Giridih : चार दिनों से लगातार हो रही मूसलाधार बारिश ने जनजीवन को पूरी तरह से अस्त-व्यस्त कर दिया है. इसका प्रभाव शुक्रवार देर रात से अधिक दिखना शुरू हुआ.

शनिवार सुबह हुई तो लोगों को जानकारी मिली कि गिरिडीह के राजधनवार प्रखंड से तीन किलोमीटर दूर पहाड़पुर गांव का 15 साल पुराना पहाड़पुर पुल भारी बारिश के कारण ही बीचोंबीच धंस गया है.

यहां तक कि पुल के तीन पिल्लर के धंसने के साथ पुल का पहुंच पथ भी क्षतिग्रस्त हो गया. लिहाजा, शनिवार सुबह से ही पुल में आवागमन ठप हो गया है.

सात स्पैन के पुल के बीच का हिस्सा धंसने से धनवार के पहाड़पुर समेत आठ गांवो का संपर्क पूरी तरह से टूट चुका है. वैकल्पिक रास्ता है भी तो वह इन आठ गांवो को अब धनवार से 20 किमी दूर से जोड़ेगा.

इसे भी पढ़ें : पलामू : वायरल #Audio में धमकी देते सुनाई दे रहे पांकी #MLA, विरोधी हुए #Active

कई गांवों का संपर्क पथ था पुल

पहाड़पुर के इस पुल के कारण पहले आठ गांवों से धनवार आवागमन में महज तीन किमी लगा करता था.

इधर धनवार के पहाड़पुर पुल के धंसने के कारण धनवार का बरसीगिंखुर्द, बरसिंगीकला, सापामारन, झांझ, दुर्जनाडीह के अलावे बोनाकोड़ी गांव समेत कई और गांवो का संपर्क और आवागमन टूटा है.

यही नहीं घोड़थंबा से धनवार आवागमन के लिए शार्ट रास्ता भी यह पुल बताया जा रहा है. यहां तक घोड़थंबा के रास्ते जितने गांव थे, उन गांवो का धनवार आवागमन भी लोग इसी पुल के माध्यम से किया करते थे.

इसे भी पढ़ें : लातेहार : गारू में ही बना दिये प्रखंड के सारे प्रज्ञा केंद्र व #GrahakSuvidhaKendra, गांवों तक सुविधा पहुंचे तो कैसे?

घटिया निर्माण को लेकर हुआ था विवाद

जानकारी के अनुसार 15 साल पुराने इस पुल का निर्माण पूर्व कोडरमा सांसद तिलकधारी सिंह की अनुशंसा पर कराया गया था.

पुल निर्माण के दौरान ही निर्माण में गड़बड़ी की शिकायत होने पर स्थानीय लोगों ने जमकर हंगामा भी किया था.

इसे भी पढ़ें : #KasturbaSchools में सत्र 2019-20 के लिए घटायी गयीं #seats, फिर भी 14,127 रह गयीं खाली

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: