GiridihJharkhand

गिरिडीह : पांच बच्चों को मानव तस्करी के लिए ले जाया जा रहा था सूरत, पुलिस ने सुरक्षित किया बरामद

Giridih : 5 बच्चों को तस्करी के लिए सूरत ले जाया जा रहा था. गिरिडीह ताराटांड़ थाना पुलिस ने सभी को तस्करों से सुरक्षित मुक्त कराया. पुलिस ने तीन तस्करों को भी गिरफ्तार किया है. मामले की जांच में महिला थाना पुलिस और गिरिडीह बाल संरक्षण समिति संयुक्त रुप से जुटी हुई है. इस दौरान बाल संरक्षण समिति के प्रभारी पदाधिकारी अलका हेम्ब्रम ने पांचों बच्चों के परिजनों को मामले की जानकारी दी.

जिसके बाद परिजन समाज कल्याण विभाग पहुंचे. मामले में जिन तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है उनमें बबलू सोरेन, दिनेश मंडल और मुन्ना मंडल शामिल है. उनसे पूछताछ की जा रही है.

इसे भी पढ़ें:BIG NEWS : फर्जी मार्कशीट मामले में दोषी मिले BJP विधायक की विधानसभा सदस्यता रद्द

ram janam hospital
Catalyst IAS

पूछताछ के दौरान तीनों आरोपियों ने कबूल किया है कि वे तीनों पांचों बच्चों को गिरिडीह के ताराटांड़ से सूरत ले जाया जा रहा था. तिनों आरोपी बिहार के जमुई जिले के रहने वाले हैं.

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

इधर समाज कल्याण पदाधिकारी अलका हेम्ब्रम ने बताया कि पांचों बच्चों को सुरक्षित कर लिया गया है और इनके परिजनों को बुलाकर अब बच्चों को सौंपने की प्रकिया पूरी की जा रही है.

इसे भी पढ़ें:विनोद कांबली को भी साइबर क्रिमनल्स ने लगाया लाखों का चूना, जानें किस एप का किया इस्तेमाल

समाज कल्याण पदाधिकारी अलका के अनुसार बच्चों में गिरिडीह के तिसरी के लोकायनयनपुर गांव निवासी मुन्ना कुमार और पंकज कुमार के अलावे देवरी के भेलवाघाटी निवासी पप्पू कुमार समेत बिहार के जमुई निवासी संतोष कुमार और संतोष मुर्मु शामिल है.

मामले का खुलासा शुक्रवार की शाम को उस वक्त हुआ, जब तस्कर इन बच्चों को एक टाटा मैजिक से लेकर ताराटांड़ से धनबाद रेलवे स्टेशन जा रहे थे. जहां से सूरत के ट्रेन में इन बच्चों बैठाना था.

इसे भी पढ़ें:मानव तस्कर पन्ना लाल को ईडी ने लिया 5 दिनों की हिरासत में, होगी पूछताछ

Related Articles

Back to top button