GiridihJharkhand

गिरिडीहः चार दिवसीय महापर्व छठ का पहला अर्घ्य.

Giridih: महापर्व चैती छठ में भी कोरोना का असर देखने को मिला. छठ पूजा को लेकर भीड़ न लगे इसे लेकर सभी छठ घाटों पर प्रशासन की व्यवस्था देखी गयी. कोरोना के मद्देनजर छठ घाट पर सिर्फ डाला लेकर जा रहे श्रद्धालुओं और व्रतियों को जाने की अनुमति दी गयी. वैसे थाना प्रभारी ने श्रद्धालुओं से अपील करते हुए कहा कि जब तक छठ घाट में पूजा कर रहे व्रति बाहर नहीं निकलते, तब तक और लोगों को जाने की अनुमति नहीं दी जा सकती.

चैती छठ के मौके पर भगवान सूर्य को अर्घ दिया गया. इस दौरान फल से भरे सूप और डाला लेकर व्रतियों ने छठ घाट में चारों तरफ परिक्रमा किया. इसेसे पहले व्रति अपने घरों से दंड देते हुए निकले. कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच चैती छठ का पहला अर्घ्य देने के लिए शहर बरवाडीह पुलिस लाईन स्थित मानसरोवर तालाब बेहतर व्यवस्था की गयी थी. मानसरोवर तालाब समिति के अध्यक्ष बाबुल गुप्ता नेतृत्व में व्रतियों के पूजा-अर्चना के लिए सारी तैयारी की गई थी.
सीमित श्रद्धालुओं के बीच व्रतियों दूध और जल से अस्ताचलगामी भगवान सूर्य और छठ मैया को अर्घ्य प्रदान किया.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: