न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गिरिडीहः बेखौफ अपराधियों ने फाइनेंस कंपनी से लूटे साढ़े पांच लाख रुपये, कर्मचारियों से मारपीट

दफ्तर में कर्मचारियों को बंधक बनाकर साढ़े पांच लाख की लूट

802

Giridih: जिले के गांडेय के बाद बेंगाबाद में बेख़ौफ़ अपराधियों ने एक बार फिर लूट की घटना को अंजाम दिया. नकाबपोश अपराधियों ने दुस्साहस का परिचय देते हुए एक फाइनेंस कंपनी से लाखों की लूट को अंजाम दिया है.

साढ़े पांच लाख की लूट

बाइक पर आये छह अपराधियों ने बेंगाबाद स्थित भारत फाइनेंस कंपनी के दफ्तर पर धावा बोला और कर्मियों को बंधक बनाकर साढ़े पांच लाख से अधिक रुपये लूट कर फरार हो गए.

इस दौरान अपराधियों ने कंपनी के कर्मियों के साथ मारपीट भी की है. जिसमें मैनेजर श्रीकांत घायल हो गए हैं. अपराधियों ने हथियार की नोंक पर वारदात को अंजाम दिया और फायरिंग करते हुए फरार हो गये.

इसे भी पढ़ेंः#ElectionResults2019- बीजेपी की जबरदस्त जीत पर मोदी बोले – फिर भारत की जीत हुई

कागजात जमा करने के नाम पर खुलवाया दफ्तर

बताया जाता है कि सुबह साढ़े दस बजे के करीब तीन बाइक पर सवार छह नकाबपोश अपराधी बेंगाबाद फॉरेस्ट ऑफिस के समीप स्थित भारत फाइनेंस कंपनी के दफ्तर पहुंचे. और डॉक्यूमेंट जमा करवाने की बात कहकर अंदर घुसे.

दफ्तर के अंदर जाते ही अपराधियों ने बंदूक का भय दिखाकर कार्यालय में मौजूद दोनों कर्मियों को अपने कब्ज़े में ले लिया. इस दौरान कर्मियों ने जब थोड़ा विरोध किया तो अपराधियों ने क्रेडिट मैनेजर श्रीकांत यादव के सर पर रिवाल्वर की बट से वार कर जख्मी कर दिया.

जिसके बाद कार्यालय में रखे पांच लाख 63 हजार दो सौ बत्तीस रुपये लूट लिए. इस दौरान अपराधियों ने दोनों कर्मियों का मोबाइल भी छीन लिया और अपने साथ ले गए. जाते-जाते अपराधियों ने फायरिंग कर कर्मियों को धमकाया और फरार हो गए.

इसे भी पढ़ेंःअचानक मोदी की सुनामी कहां से आ गयी? कांग्रेस नेता का ईवीएम पर सवाल

अपराधी बेख़ौफ़, पुलिस की बढ़ी चुनौती

घटना के बाद सूचना पाकर बेंगाबाद पुलिस मौके पर पहुंची और पूरी जानकारी लेने के बाद मामले की पड़ताल में जुट गई है. थाना प्रभारी प्रशांत कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम अलग-अलग इलाकों में गश्ती कर अपराधियों की धर-पकड़ की कोशिश में लगी हुई है.
बता दें कि कल यानी बुधवार को अपराधियों ने गांडेय में एक ग्राहक सेवा केंद्र संचालक से लगभग डेढ़ लाख रुपये लूट की वारदात को अंजाम दिया था. दूसरे दिन ही अपराधियों ने बेंगाबाद में अपना दुस्साहस दिखाया है. लोगों का मानना है कि अपराधी किसी गिरोह से जुड़े हुए हैं और सुनियोजित ढंग से एक के बाद एक वारदात को अंजाम दे रहे हैं.

बहरहाल यह काम किसी गिरोह का हो या फिर किसी अन्य अपराधकर्मियों का. मगर जिस प्रकार से अपराधियों ने दिन-दहाड़े चहल-पहल वाले इलाके में वारदात को अंजाम दिया है. यह पुलिस-प्रशासन के लिए खुली चुनौती है. अब देखना यह होगा कि पुलिस अपराधियों तक पहुंच पाने में सफल हो पाती है या नहीं.

इसे भी पढ़ेंःएग्जिट पोल : भविष्यवाणी 95 फीसदी सच हुई, फूट-फूटकर रोने लगे एक्सिस माय इंडिया के सीएमडी प्रदीप…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
क्या आपको लगता है हम स्वतंत्र और निष्पक्ष पत्रकारिता कर रहे हैं. अगर हां, तो इसे बचाने के लिए हमें आर्थिक मदद करें.
आप अखबारों को हर दिन 5 रूपये देते हैं. टीवी न्यूज के पैसे देते हैं. हमें हर दिन 1 रूपये और महीने में 30 रूपये देकर हमारी मदद करें.
मदद करने के लिए यहां क्लिक करें.-

you're currently offline

%d bloggers like this: