न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गिरिडीह : हेवी ब्लास्टिंग से घरों में पड़ी दरारें, खनन पदाधिकारी ने की जांच

निजी कंपनी कर रहे हैं नियम के विरूद्ध खनन

96

Giridih : गिरिडीह के जिला खनन पदाधिकारी सतीश कुमार नायक और डुमरी एसडीओ प्रेमलता मुर्मू ने डुमरी अनुमंडल क्षेत्र के चीनों एवं डुमरियाटांड में स्थित शिवम इंटरप्राइजेज लिमिटेड और पारसनाथ स्टोन माइंस द्वारा हैवी ब्लास्टिंग करने की शिकायत की जांच की.

इसे भी पढ़ेंःसुप्रीम कोर्ट ने IPC की धारा 497 को किया रद्द, कहा महिला-पुरुष एक समान, विवाहेतर संबंध अपराध नहीं

विवादित स्टोन माइंस

 क्या है पूरा मामला

उक्त दोनों निजी खनन कंपनियों द्वारा रिहायसी इलाके से सटे खदान में गलत तरीके से खनन करने की शिकायत इलाके के लोग काफी दिनों से कर रहे थे. इस मामले में ग्रामीणों और माइंस से 400 मीटर की दूरी पर स्थित मीना जनरल हॉस्पिटल के मालिक मोहम्मद आलम ने हैवी ब्लास्टिंग की शिकायत डुमरी एसडीएम से की थी. जिसके बाद एसडीएम ने एक टीम बनाकर दोनों माइंसों का निरीक्षण किया. साथ ही गांव वालों से ब्लास्टिंग के दौरान होने वाली समस्याओं की भी जानकारी ली. स्थानीय लोगों द्वारा ब्लास्टिंग से उनके घरों में दरारे होने की शिकायत के बाद अधिकारी जांच के लिए पहुंचे थे.

इसे भी पढ़ें- ADG डुंगडुंग उतरे SP महथा के बचाव में, DGP को पत्र लिख कहा वायरल सीडी से पुलिस की हो रही बदनामी, करायें जांच

घरों में पड़ गईं दरारें

palamu_12

गांव के लोगों ने बताया कि हैवी ब्लास्टिंग के कारण उनके घरों में दरारे पड़ गई हैं और कभी भी पत्थर का बड़ा टुकड़ा घरों में गिर जाता है. जिससे हमेशा जान माल के नुकसान का खतरा बना रहता है. मीना जनरल हॉस्पिटल के मालिक ने बताया कि हैवी ब्लास्टिंग के कारण उनके अस्पताल के दीवार में भी जगह-जगह दरार पड़ गई हैं. मरीजों को भी हैवी ब्लास्टिंग के कारण काफी परेशानी होती है. जिसके कारण अस्पताल में मरीजों के साथ कभी भी कोई बड़ी घटना होने की आशंका बनी रहती है.

इसे भी पढ़ें:कास्टिज्म की बात करने पर फंसे पलामू SP, गृह विभाग ने किया शोकॉज, मांगा स्पष्टीकरण

कार्रवाई का दिया आश्वासन

घटनास्थल और माइंस की जांच के बाद अधिकारियों की टीम ने मीणा जेनरल अस्पताल पहुंच कर अस्पताल के दिवारों में पडें दरारों की भी जांच की. साथ ही जांच के बाद उचित कार्रवाई करने का भी आश्वासन दिया. जबकि डीएमओ सतीश कुमार नायक ने भी माइंस की जांच कर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बात कही.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: