Crime NewsGiridihJharkhand

Giridih: डुप्लीकेट शराब बेचने से इनकार किया तो दुकान के कर्मियों को ठेकेदार ने पीटा

Giridih: गिरिडीह जिले में डुप्लीकेट शराब बेचने से इनकार करने पर शराब ठेकेदार ने शराब दुकान के दो स्टाफ की पिटाई कर दी. स्थानीय लोगों को जब पता चला तो उन्होंने ठेकेदार और और उसके साथ आये कर्मियों को पकड़कर पुलिस के सुपुर्द कर दिया.

घटना परसन ओपी क्षेत्र के केंदुआ में संचालित सरकारी शराब दुकान की है. इसके स्टाफ ने ठेका  मालिक  द्वारा दिए गए डुबलीकेट शराब  को बेचने  से मना  कर दिया. गुस्से से आग बबूला ठेकेदार  व उसके  साथ  आये  कर्मियों ने दोनों स्टाफ की पिटाई  कर  दी. युवकों को पिटता  देख मौके पर आस पास के दर्जनों ग्रामीण इकट्ठा हो  गये.

लोगों ने दोनों पक्षों की बात सुनी तो आग  बबूला  हो गये. ग्रामीणों ने 12  पेटी शराब लदी वैगन आर कार व एक अन्य वाहन ब्रीजा  के साथ ठेकेदार व उसके कर्मियों को बंधक बना लिया. उन्होंने केंदुआ में शराब दुकान बन्द कर देने व सरकारी शराब दुकान में डुब्लीकेट बेचने वालो पर कार्रवाई की मांग को लेकर करीब दो घंटे तक हंगामा किया.

advt

इसे भी पढ़ें – बारिश का कहर: 24 घंटों में चार जिलों में 8 की मौत, रांची में पुल टूटा, स्वर्णरेखा में बहा युवक

प्रबुद्धजनों  ने स्थिति को देखते हुए मामले की सूचना परसन ओपी को दी और संचालक व उसके साथ आये  कर्मियों  को  शराब  दुकान  में बैठा कर दुकान को बाहर से बंद दिया. सूचना मिलने पर परसन ओपी पुलिस भी  मौके  पर  पहुंच  गयी, जिसके बाद ग्रामीणों ने शराब लदे  वाहन  के साथ  बिहार के नालंदा के संचालक राज कुमार  साव व मैनेजर  दिवाकर सिंह को पुलिस के हाथों सुपुर्द  कर  दिया.

शराब  दुकान  स्टाफ  बिनोद यादव व सुबोध ठाकुर ने बताया कि शनिवार करीब तीन बजे बिना परमिट  दिये बिहार के रहने वाले दुकान मालिक राजकुमार साव अपने कर्मियों के साथ आये और वाहन से शराब की पेटी निकाल कर बेचने के लिए कहने लगे. कहा कि जब दोनों ने संबंधित शराब का चालान मंगा तो मालिक ने देने से इनकार करते हुए कहा कि तुम्हे जो बेचने दिया जा रहा है, बेचो, हिसाब मत मांगो.

कहा कि जब उसने डुप्लीकेट शराब बेचने से मना किया तो दुकान मालिक और उसके साथ आये कर्मियों ने मिलकर मारपीट शुरू कर दी तथा जबरजस्ती अपनी गाड़ी पर बैठाने लगे. तभी आस पास के लोग पहुंचे तो हमलोग भागने में कामयाब रहे.

इसे भी पढ़ें – जज उत्तम आनंद हत्याकांड में बाबूलाल ने धनबाद SSP की भूमिका पर उठाये सवाल, कहा- बर्खास्तगी के साथ हो कार्रवाई

जबकि दुकानदार के साथ आये  मैनेजर दिवाकर सिंह ने कहा कि काउंटर के दोनों स्टाफ काउंटर में दो नम्बर की शराब की बिक्री करते थे. आज हमलोग दुकान से डुप्लीकेट शराब निकाल कर गाड़ी में लाद रहे थे और पूछताछ कर ही रहे थे तभी वे भाग गये.

बताया जाता है कि उक्त शराब दुकान हेमरोडोह के नाम से है जबकि केंदुआ मोड़ पर संचालित की जा रही है. इस बाबत माले नेता कयूम ने कहा कि सरकारी दुकान में अवैध रूप से डुप्लीकेट शराब बेचा जाना दुर्भाग्यपूर्ण है. ऐसे दुकान संचालकों पर स्थानीय प्रशासन कड़ी कार्रवाई करे.

इसे भी पढ़ें – Big Breaking: एडीजे उत्तम आनंद की मौत की सीबीआई जांच की अनुशंसा

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: