GiridihJharkhand

गिरिडीह: सड़क हादसे में साले-बहनोई की मौत

Giridih: गिरिडीह-डुमरी रोड के जामतारा गांव में शुक्रवार की देर शाम अज्ञात वाहन की चपेट में आने से दो बाइक सवारों की मौके पर मौत हो गई. मृतकों में डुमरी थाना क्षेत्र के जामतारा गांव निवासी रोहित महतो और बोकारो के नावाडीह के बराय पलामू गांव निवासी जीतेन्द्र महतो शामिल हैं. जानकारी के अनुसार दोनों मृतक आपस में साला-बहनोई थे.

घटना के बाद ग्रामीणों ने सड़क जाम करते हुए प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे. इसी वक्त गिरिडीह एसपी अमित रेणु भी अपने सरकारी वाहन से बगोदर से गिरिडीह लौट रहे थे. लिहाजा, ग्रामीणों का गुस्सा और भड़क उठा. और जामतारा गांव में स्पीड ब्रैकर नहीं दिए जाने से नाराज ग्रामीणों ने एसपी के वाहन को उस रुट से गिरिडीह नहीं जाने दिया.

इसे भी पढ़ें:गांधी जी की कमर में कौन सी ब्रांड की घड़ी लटकती थी?

Catalyst IAS
ram janam hospital

ग्रामीणों का गुस्सा देखकर ही एसपी अमित रेणु के वाहन को डुमरी थाना पुलिस और एसडीपीओ मनोज कुमार ने रुट बदल कर रवाना कराया. जबकि ग्रामीणों के गुस्से को देखते हुए एसपी ने भी चालक से दूसरे रास्ते से चलने की बात कही.

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

तो दूसरी तरफ ग्रामीणों को समझाने के लिए घटनास्थल पर डुमरी एसडीपीओ प्रेमलता मुर्मू भी पहुंची थी. लेकिन गुस्साए ग्रामीण किसी की सुनने को तैयार नहीं थे. इसके बाद डुमरी, निमियाघाट,पीरटांड और मधुबन थाना से अतरिक्त पुलिस बल को बुलाया गया. स्थिति को नियंत्रण करने के लिए हल्का बल प्रयोग भी किया गया.

जानकारी के अनुसार जामतारा के जिस स्थल पर दुर्घटना हुई वो इलाका बेहद खराब है और अक्सर सड़क हादसे होते रहते हैं. इससे पहले भी ग्रामीणों ने स्पीड ब्रेकर देने की मांग करते रहे हैं.

इसे भी पढ़ें:सीएम ममता की पीएम मोदी से मुलाकात, विपक्षी दलों में हलचल

Related Articles

Back to top button