GiridihJharkhand

गिरिडीहः तय राशि से ज्यादा आवास भत्ता लेती रहीं सहकारिता विभाग की सहायक निबंधक !

मामला सामने आया तो मौजूदा सहायक निबंधक ने वरीय अधिकारियों को लिखा पत्र, हो सकती है कार्रवाई

Giridih: गिरिडीह में सहकारिता विभाग में सहायक निबंधक, सहयोग समितियां के तौर पर पदस्थापित रहीं नीलम कुमारी ने प्रतिमाह मूल वेतन का 16 प्रतिशत मकान भत्ता के तौर पर भुगतान ले लिया, जबकि गिरिडीह में सरकारी पदाधिकारियों और कर्मचारियों को 8 प्रतिशत की दर से इस भत्ते का भुगतान किया जाता है.

नीलम कुमारी फिलहाल बोकारो जिले के तेनुघाट में पदस्थापित हैं. गिरिडीह में वह लगभग तीन साल तक पदस्थापित रहीं और इस दौरान उन्होंने प्रतिमाह 9800 रुपये मकान भत्ता के रूप में भुगतान लिया. तय राशि से अधिक भुगतान लेने की स्थिति में उनके खिलाफ कार्रवाई हो सकती है.

इसे भी पढ़ें : Tokyo Olympics में गोल्फर अदिति अशोक मामूली अंतर से चूकीं मेडल, चौथे नंबर पर

Catalyst IAS
ram janam hospital

यह मामला सामने आने पर गिरिडीह के मौजूदा सहायक निबंधक, सहयोग समितियां ने जिले के कोषागार पदाधिकारी को पत्र लिखकर इस बाबत जानकारी दी है. उन्होंने कोषागार पदाधिकारी से यह जानना चाहा है कि गिरिडीह में 8 प्रतिशत की दर से मकान भत्ता भुगतेय होगा या 16 प्रतिशत की दर से?

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें : रांची में बुंडू के कांची नदी पर धंसे पुल को दोबारा बनाने को ठेकेदार तैयार, दिया हलफनामा

इस मामले में आवश्यक कार्रवाई के आग्रह के साथ पत्र की प्रतिलिपि योजना सह वित्त विभाग के अवर सचिव सहित गिरिडीह और बोकारो के उपायुक्त को भी भेजी गयी है. गिरिडीह के वर्तमान सहायक निबंधक, सहयोग समितियां ने पत्र की प्रतिलिपि पूर्व सहायक निबंधक नीलम कुमारी को भेजते हुए यह स्पष्ट करने को कहा है कि उन्होंने 16 प्रतिशत की दर से मकान भत्ता का भुगतान कैसे प्राप्त किया?

इसे भी पढ़ें :Bihar Unlock 5: स्कूलों में शुरू हुई पढ़ाई, शॉपिंग मॉल-सिनेमा हॉल में भी लौटी रौनक, 7 बजे तक खुलेंगी दुकानें

Related Articles

Back to top button