NEWS

गिरिडीह: अवैध शराब कारोबार में पूर्व पार्षद सह भाजपा नेता पर एक और केस दर्ज

  • भाजपा नेता समेत चार लोगों के खिलाफ दर्ज हुआ केस
  • डुमरी और बगोदर में उत्पाद और पुलिस विभाग की छापेमारी, बड़े पैमाने पर ब्रांडेड शराब जब्त
  • पूर्व पार्षद फर्जी नंबर वाली पिकअप वैन पर शराब की खेप को बिहार भेजने की कर रहे थे तैयारी
  • मुफ्फसिल थाना पुलिस ने वैन चालक को किया गिरफ्तार, बगोदर और डुमरी में भी तीन गिरफ्तार

Giridih: फरार चल रहे पूर्व वार्ड पार्षद सह भाजपा नेता शिवम आजाद उर्फ शिवम श्रीवास्तव के खिलाफ शनिवार को एक बार फिर अवैध कारोबार के आरोप में केस दर्ज किया गया.

ये है मामला

जानकारी के अनुसार, सदर एसडीपीओ कुमार गौरव को गुप्त सूचना मिली कि गिरिडीह के औद्योगिक क्षेत्र के टुंडी रोड में एक पिकअप वैन में कंटेनर बनाकर ब्रांडेड अंग्रेजी शराब की 30 पेटियों से भरे वैन को बिहार भेजने की तैयारी की जा रही है.

इसी सूचना के आधार पर शुक्रवार देर शाम एसडीपीओ कुमार गौरव के नेतृत्व में मुफ्फसिल थाना प्रभारी रत्नेश ठाकुर ने टुंडी रोड में एक फैक्ट्री के समीप छापेमारी की. छापेमारी के दौरान पुलिस ने 30 पेटियों से भरे वैन को जब्त करने के साथ चालक सन्नी साव को गिरफ्तार कर दूसरे दिन शनिवार को जेल भेज दिया.

जानकारी के अनुसार शराब की पेटियों से लोड जिस पिकअप वैन को पुलिस ने जब्त किया है उस वैन का नंबर भी फर्जी है. पुलिस की मानें तो जब्त वैन में किसी बाइक का नंबर दर्ज था.

बाइक के नंबर का इस्तेमाल कर शराब की पेटियों से लोड वैन को बिहार भेजने की तैयारी चल रही थी. इसी दौरान पुलिस ने वैन समेत चालक को पकड़ा.

इसलिए दर्ज हुआ केस

गिरफ्तार सन्नी साव औद्योगिक क्षेत्र के गादीश्रीरामपुर का रहने वाला है. पूछताछ में सन्नी ने अवैध शराब के कारोबारियों के सिंडिकेट के सदस्यों के नाम का खुलासा किया जिसमें पूर्व पार्षद सह भाजपा नेता शिवम आजाद के अलावे सोनू और विक्की शामिल हैं. हालांकि विक्की और सोनू कहां के रहने वाले हैं, यह स्पस्ट नहीं हो पाया है. पुलिस जांच में जुटी हुई है.

बतातें चले कि भाजपा नेता शिवम के खिलाफ पहले से ही अवैध शराब का कारोबार करने का केस दर्ज है. भाजपा नेता पहले से अवैध कारोबार के मामले में फरार चल रहे थे.

adv

अन्य जगहों पर भी हुई छापेमारी

इधर गुप्त सूचना के आधार पर ही डुमरी और बगोदर थाना पुलिस ने अलग-अलग स्थानों पर छापेमारी की. बगोदर के बेको गांव में छापेमारी के दौरान पुलिस और उत्पाद विभाग की टीम ने उत्पाद अधीक्षक सुधीर कुमार के निर्देश पर अनिल साव और उसके भाई कमल साव के मकान में छापेमारी की जहां से अरुणाचल प्रदेश में बिकने वाली ब्रांडेड शराब पीयूष गोल्ड की 26 बोतलें बरामद हुईं.

साथ ही अनिल साव घर पर किंग्स गोल्ड कंपनी की ब्रांडेड शराब की ब्रिकी करता पाया गया. इस दौरान टीम के पदाधिकारियों ने दोनों कंपनियों के बोतलें जब्त करने के साथ अनिल साव को गिरफ्तार कर लिया.

इसके बाद डुमरी के महादेव होटल में छापेमारी कर वहां से टीम ने इंपीरियल ब्लू, ऑफिसर्स च्वाइस और रॉयल स्टेग की दर्जन भर से अधिक बोतलों को जब्त किया. होटल संचालक को भी टीम द्वारा गिरफ्तार किये जाने की खबर है पर इसकी पुष्टि नहीं हुई है.

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: