GiridihJharkhandNEWS

गिरिडीह : बारिश के कारण पीरटांड में 22 साल पुराने पुल का एक हिस्सा धंसा, बड़े वाहनों का परिचालन ठप

Giridih : गिरिडीह में भी पिछले दो दिनों से हो रहे मूसलाधार बारिश के कारण सोमवार की रात सदर प्रखंड के पीडांटाड  में 22 साल पुराना पुल का सात पीलर धंस गया. पुल धंसने से बड़े वाहनों का परिचालन पूरी तरह से ठप हो गया है. सिर्फ छोटे वाहनों के आवागामन चालू रखा गया है. मंगलवार की सुबह घटना की जानकारी देने का लिए सदर बीडीओ दिलीप महतो से संपर्क किया गया, लेकिन बात नहीं हो पायी.

जानकारी के अनुसार पुल का शिलान्यास एकीकृत बिहार में साल 1998 में भूतपूर्व सांसद रीतलाल वर्मा और पूर्व गांडेय विधायक लक्ष्मण स्वर्णकार ने किया था. जबकि इस पुल का उद्घाटन झारखंड अलग होने के बाद पहले साल 2000 में हुआ था. 11 लाख के लागत से बना यह पुल शिकारदाहडीह, परसातांद, पीडांटांड और खावा पंचायत के दर्जन भर गांव को जोड़ता था. जबकि इस पुल से बेंगाबाद और जमुआ के दो प्रखंड के कई और पंचायत के गांव को जोड़ा गया था. लिहाजा, इस पुल का एक हिस्सा धंसने के बाद ग्रामीणों की परेशानी का सामना करना तय है. क्योंकि हर बड़े वाहनों के परिचालन को ठप कर दिया गया है.

इसे भी पढ़ें: गिरिडीह : आत्महत्या के बढ़ रहे प्रवृति को रोकने के लिए पुलिस जवानों का सामूहिक डांस, समस्याओं से दूर रहने का दिया गुरु मंत्र, देखें वीडियो

Sanjeevani

Related Articles

Back to top button