न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गिरिडीह : ससुराल में मिला महिला का फंदे से झूलता शव, पति समेत सास-ससुर पर हत्या का आरोप

1,488

Giridih : गिरिडीह के मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के भोरणडीहा में 25 वर्षीय महिला रीना देवी का शव उसके ससुराल में पुलिस ने फंदे से झूलता हुआ बरामद किया. मृतिका के भाई मुकेश दास ने बताया कि उसने बहनोई प्रकाश दास को शनिवार की सुबह तीन बार फोन किया.

तीनों बार फोन करने के दौरान पति प्रकाश ने रीना को लेकर अलग-अलग जानकारी दी. इसके बाद प्रकाश ने रीना देवी की मां को बताया कि वह लोग जल्दी भोरणडीहा पहुंचे. नहीं तो उनकी बेटी के साथ कोई हादसा हो सकता है.

Sport House

दूसरी बार प्रकाश दास ने सास को बताया कि उसकी बेटी की हालत बेहद खराब है. जितना जल्दी वे लोग पहुंच सकते है, पहुंचें. जबकि अंतिम बार फोन कर रीना देवी की मां को बताया गया कि उनकी बेटी की मौत हो गयी है.

इसे भी पढ़ेंः Durgapur : एनआरसी बिल हटाने की मांग को लेकर मुस्लिम संगठन ने महकमा शासक को सौंपा ज्ञापन

भाई ने दी पुलिस को जानकारी

लिहाजा, प्रकाश दास से जानकारी मिलने के बाद भाई मुकेश ने पूरे घटना की जानकारी मुफ्फसिल थाना पुलिस को दी. पुलिस भोरणडीह पहुंची, तो देखा कि मृतिका का शव उसके ससुराल के एक कमरे में फंदे से झूल रहा है.

Mayfair 2-1-2020

जबकि कमरे का दरवाजा खुले होने की बात सामने आई है. पुलिस भी प्रथम दृष्टया में मामले को हत्या मान कर चल रही है. घटना के बाद सास-ससुर जहां फरार बताएं जा रहे है. वहीं पुलिस ने पूछताछ के लिए पति प्रकाश दास को हिरासत में लिया है.

इसे भी पढ़ेंः बर्धमान : प्रेमी ने घर में घुस कर प्रेमिका को मार डाला, फिर फांसी लगाकर दे दी जान

क्या है पूरा मामला

बेंगाबाद के रनियाटांड निवासी और मृतिका के भाई मुकेश दास समेत परिजनों ने रीना देवी की हत्या का आरोप उसके ससुराल वालों पर लगाया है. भाई मुकेश दास ने बहन की हत्या का आरोप बहनोई प्रकाश दास, ससुर पवन दास और सास परवतिया देवी पर लगाते हुए कहा कि रीना देवी की शादी साल 2009 में प्रकाश दास के साथ होने के बाद उसकी बहन एक साल तक ससुराल में बेहतर तरीके से रही.

लेकिन एक साल बीतनें के बाद पति, ससुर और सास उसकी बहन रीना देवी को मायके से नगद रुपये के साथ गाड़ी मांग कर लाने का दबाव बना लगे. 10 साल पहले हुए शादी के बाद मृतिका को तीन बच्चा होने के बाद भी घरेलू विवाद बढ़ता गया.

यही नही मामले को सुलझाने के लिए मायके वालों ने ससुर वालों को साल 2012 और 2017 में एक पंचायती के दौरान कुछ नगद भी दिए. बावजूद मृतिका को काफी दिनों से प्रताड़ित किया जा रहा था. इधर पुलिस शव को कब्जे में लेकर थाना पहुंची, जहां परिजन भी थाना पहुंचे थे.

इसे भी पढ़ेंः Asansol : आसनसोल जेल में रहते अपराधी ने #IAS अधिकारी के खाते से उड़ाये सात लाख रुपये

SP Jamshedpur 24/01/2020-30/01/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like