Corona_UpdatesGiridihJharkhand

गिरिडीह: कोरोना संक्रमण से 70 वर्षीय पूर्व पार्षद की मौत, 24 घंटे में शहर से 30 नये संक्रमित मिले

  • शीतलपुर और पचंबा के हडांडीह के दो संक्रमितों को सांस लेने में हो रही तकलीफ के बाद भेजा गया कोविड हॉस्पिटल
  • बढ़ते सामुदायिक संक्रमण के कारण जिला मुख्यालय का कोविद हास्पिटल हुआ फुल, संक्रमितों को होम आइसोलेशन में रहने का सुझाव

Giridih: गिरिडीह जिले में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 286 नये केस सामने आये हैं. रविवार को शहर के 70 वर्षीय अधिवक्ता सह पूर्व पार्षद और भाजपा नेता की मौत भी कोरोना से हो गयी. इसी 24 घंटे के अंदर आयी रिपोर्ट में पॉजिटिव पाये गये थे.

मृतक के अलावे उनके एक भतीजे और दो चचेरे पोते की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आयी है. कोरोना के कारण हुए पूर्व पार्षद की मौत के बाद कोरोना से गिरिडीह में यह नौंवी मौत है. सिविल सर्जन ने बताया कि मृतक पूर्व पार्षद के शव का अंतिम संस्कार स्वास्थ्य विभाग द्वारा किया जायेगा.

जानकारी के अनुसार पूर्व पार्षद पहले से भी मलेरिया से पीड़ित थे. कुछ दिनों पहले ही हजारीबाग से इलाज कराकर लौटे थे. हजारीबाग में ही उनका सैंपल लिया गया था. इसके बाद शनिवार की देर रात रिपोर्ट आयी जिसमें परिवार के तीन और लोग पॉजिटिव पाये गये. घटना के बाद शहरी क्षेत्र में दुबारा प्रभावकारी लॉकडाउन करने की मांग जोर पकड़ने लगी है.

advt

इसे भी पढ़ें – WHO की चेतावनी, कहा- वैक्सीन जादुई गोली नहीं, लंबे समय तक रहेगा कोरोना

कोई नया केस नहीं, सब पुराने मामले : स्वास्थ्य विभाग

शनिवार को आये 286 नये केस को लेकर स्वास्थ विभाग का कहना है कि नया केस कोई नहीं आया है, सब पुराने केस हैं जिसमें पुलिस लाइन के 41 पुलिस कर्मी भी हैं. इनमें मधुबन और तिसरी थाना का एक-एक जवान शामिल हैं. बिरनी के 54 संक्रमित हैं.

स्वास्थ विभाग की मानें तो सिर्फ शहरी क्षेत्र में 30 नये केस रविवार सुबह तक सामने आये. इसमें ट्रूनेट, आरटीपीसीआर जांच के साथ एंटीजेन टेस्ट के रिपोर्ट भी शामिल है. खास बात यह भी है कि शहरी क्षेत्र के नये केस में किसी की कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है.

इसे भी पढ़ें –टीएसपी की राशि को गलत ढंग से खर्च किया जाना ही आदिवासी समुदाय के समग्र विकास में सबसे बड़ी बाधा

adv

कोविड हॉस्पिटल में बेड फुल

सिविल सर्जन के अनुसार शहरी क्षेत्र समेत सदर प्रखंड के 30 नये मामलों में दो संक्रमितों का इलाज रांची में चल रहा है जबकि पचंबा थाना क्षेत्र के हंडाडीह और मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के शीतलपुर निवासी दो संक्रमितों को सांस लेने में हो रहे तकलीफ के बाद जिला मुख्यालय के एएनएम हॉस्टल में भर्ती कर दिया गया है.

स्वास्थ विभाग के सूत्रों ने यह भी बताया कि शहरी क्षेत्र में सबसे अधिक कोरोना संक्रमितों के केस सामने आये हैं जिनमें बोड़ो के जीडी बगेड़िया हॉस्पिटल की नर्स समेत दो कर्मियों के अलावे कचहरी रोड से चार, बक्सीडीह से एक, भंडारीडीह से एक, शास्त्री नगर से एक, बीबीसी रोड से एक, सिहोडीह से एक, बजगुंदा से एक केस हैं.

इतने बड़े पैमाने पर मिले पॉजिटिव केस ने स्वास्थ विभाग की परेशानी बढ़ा दी है. जिला मुख्यालय का एएनएम हॉस्टल परिसर स्थित कोविड-19 हॉस्पिटल संक्रमितों से भर चुका है. लिहाजा, रविवार को सिर्फ दो संक्रमितों को एडमिट किया गया. अन्य संक्रमितों को होम आइसोलेशन में रहने का निर्देश दिया गया.

इसे भी पढ़ें –अलग सरना धर्म कोड के लिए सदन से प्रस्ताव पारित कर केंद्र को भेजा जायेगा : डॉ रामेश्वर उरांव

advt
Advertisement

4 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button