Lead NewsLITERATURE

गजल गायक जगजीत सिंह ने मखमली आवाज वाले तलत अजीज को दिया था ब्रेक

जन्मदिन पर विशेष

Ad
advt

Naveen Sharma

Ranchi : रेखा स्टार मशहूर फिल्म उमराव जान की लोकप्रिय ग़ज़ल ‘ जिंदगी जब भी तेरी बज्म में लाती है हमें ये जमीं चांद से बेहतर नजर आती है हमें ’.. जिस भी संगीत प्रेमी ने ध्यान से सुनी होगी वो तलत अजीज की मखमली आवाज का दिवाना हो गया होगा.

advt

इसी तरह बाजार फिल्म की मशहूर गजल भी तलत की आवाज का शानदार नमूना है

फिर छिड़ी रात, बात फूलों की
रात है या बारात फूलों की
फूल के हार, फूल के गजरे
शाम फूलों की, रात फूलों की
फिर छिड़ी रात…
आपका साथ, साथ फूलों का
आपकी बात, बात फूलों की
फिर छिड़ी रात…
फूल खिलते रहेंगे दुनिया में
रोज़ निकलेगी बात फूलों की
फिर छिड़ी रात…
नज़रें मिलती हैं जाम मिलते हैं
मिल रही है हयात फूलों की
फिर छिड़ी रात…
ये महकती हुई ग़ज़ल मखदूम
जैसे सहरा में रात फूलों की
फिर छिड़ी रात…

advt

इसे भी आप सुनेंगे तो आप तलत की आवाज की मिठास के मुरीद हुए बिना नहीं रह पाएंगे.

इसे भी पढ़ें :सलमान के 500 करोड़ में बने शो BIG BOSS 15 पर लगा फुल स्टॉप , जानें क्यों हुआ शो बंद करने का फैसला?

किराना घराना से ली संगीत की तालीम

तलत अजीज का जन्म 11 नवंबर 1956 को हैदराबाद में हुआ. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड कॉमर्स से बीकॉम ऑनर्स की पढ़ाई की. कला प्रेमी परिवार गीत और गजलों की महफिल का आयोजन करता रहता था.

गीत-संगीत और गायकी की परंपरा इन्हें भी घर के माहौल से मिली. घर में लगनी वाली महफिलों ने अजीज के बाल मन को ग़ज़लों का ऐसा रूहानी अंदाज दिया कि उनका जीवन गीत-ग़ज़लों की तरन्नुम बन कर रह गया.

इन महफिलों में जगजीत सिंह, जां निसार अख्तर सहित अन्य बड़ी हस्तियों को आमंत्रित किया जाता था. लिहाजा गीत-गजल और शायरी के शऊर से अजीज रूबरू होने लगे. संगीत की शुरुआती शिक्षा किराना घराना से मिली.

यहां उस्ताद समद खान और बाद में उस्ताद फैय्याज अहमद खान ने इन्हें संगीत की बारीकियों से अवगत कराया. तलत ने गजल के उस्ताद मेंहदी हसन से भी गुर सीखे.

इसे भी पढ़ें :PUBG New State भारत में लॉन्च, जानें किन डिवाइस को ये गेम करेगा सपोर्ट

जगजीत सिंह ने पेश किया तलत को

तलत अजीज का पहला एलबम जगजीत सिंह के निर्देशन में 1980 में रिलीज हुआ. जगजीत सिंह इसके कंपोजर थे. इसका नाम था जगजीत सिंह प्रेसेन्ट्स तलत अजीज.

उमराव जान और बाजार की बेहतरीन गजलें

संगीत निर्देशक खय्याम ने तलत अजीज को ‘उमराव जान’ फिल्म में मधुर धुनों पर गाने का मौका दिया. अजीज की आवाज में ‘जिंदगी जब भी तेरी बज्म में लाती है’…एक दिलकश गजल थी.

फिल्म बाजार की गजल…’फिर छिड़ी रात बात फूलों की’ और डैडी का गीत…’आईना मुझसे मेरी पहली सी सूरत मांगे’.और कभी ख्वाब में या ख्याल में गीत इतने लाजवाब हैं कि अजीज को हमेशा गीत-गजलों के प्रमुख हस्ताक्षर के रूप में शुमार करते रहेंगे.

तलत ने टीवी सीरियलों को भी कंपोज किया है. इनमें दीवार, बाज, अधिकार, गुनाह, सैलाब, आर्शीवाद आदि शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें :ग्राहक ने गुस्से में रेस्टोरेंट के मैनेजर के मुंह पर फेंक दिया गरमागरम सूप, देखें VIDEO

अभिनय के क्षेत्र में हाथ आजमाया

इन्होंने महेश भट्ट द्वारा निर्देशित फिल्म ‘धुन ‘ में मुख्य भूमिका निभाई थी. इनके सह कलाकार अनुपम खेर और संगीता बिजलानी थे. इसका संगीत लक्ष्मीकांत प्यारेलाल ने दिया था और गीत आनंद बख्शी के थे. लेकिन दुर्भाग्य से यह फिल्म कभी रिलीज़ नहीं हुई.

वहीं कुछ साल पहले फिल्म फितूर से तलत ने एक बार फिर अभिनय क्षेत्र में भी कदम रखते हुए अपनी बहुमुखी प्रतिभा का परिचय दिया है.

एक अभिनेता के रूप में उन्होंने साहिल, मंजिल, दिल अपना और प्रीत पराई और नूरजहां जैसे टीवी धारावाहिकों में अभिनय किया है, जो निदा फाजली द्वारा लिखित एक टीवी धारावाहिक है.

इसे भी पढ़ें :बाढ़ में फंसे व्यक्ति की महिला इंस्पेक्टर ने बचाई जान, नंगे पांव कंधों पर उठा कर ले गयीं, देखें VIDEO

मेहदी हसन के साथ लाइव कॉन्सर्ट

1980 के दशक के मध्य तलत यूएसए और कनाडा में लाइव कॉन्सर्ट में मेहदी हसन के साथ काम करते थे.उन्होंने हैदराबाद के किंग कोठी में अपना अकेले बिना किसी बड़े कलाकार की मदद लिए स्टेज प्रदर्शन भी किया था .
2012 में, उन्होंने झलक दिखला जा 5 में भाग लिया, और बाहर होने वाले पहले प्रतियोगी थे.

टीवी में भी हाथ आजमाया

तलत ने टीवी धारावाहिकों के लिए संगीत भी तैयार किया है और उनमें से कई में अभिनय भी किया है. उन्होंने दीवार, बाज, अधिकार, घुटन, सैलाब, आशीर्वाद और महान रचना, नूरजहां जैसे टेलीविजन धारावाहिकों के लिए संगीत तैयार किया. उन्होंने हाल ही में 2016 में ‘मजाज़-ए ग़म दिल’ नामक एक फीचर फिल्म के लिए संगीत भी तैयार किया और गाया.

इसे भी पढ़ें :पड़ोस में सांप निकलने की सूचना पर पहुंचा था युवक, अजगर समझकर पकड़ा और जहरीले सांप ने काट लिया

तलत अज़ीज़ का रेडियो शो Karavan e Ghazal

नवंबर 2013 में उन्होंने 92 .7 बिग एफएम पर एक RJ के रूप में ”कारवां ए ग़ज़ल ”नामक एक विशेष रेडियो शो की मेजबानी शुरू की, जो पूरे भारत में 85 शहरों में हर रविवार रात 9 बजे से रात 11 बजे तक राष्ट्रीय स्तर पर प्रसारित किया जाता था.

तलत अज़ीज़ के गजल ,एल्बम ( Talat Aziz Gajal , Album )

तलत ने कई गजल एल्बम जारी किए हैं. 1979 और 1984 के बीच वे म्यूजिक इंडिया कंपनी के लिए रिकॉर्डिंग करने वाले शीर्ष कलाकार थे.

1984 में, वह HMV में शामिल हो गए , जो अब विशाल रिकॉर्डिंग कंपनी सारेगामा म्यूजिक है. उन्होंने कुछ समय के लिए वीनस रिकॉर्ड्स के साथ भी काम किया, जब उन्होंने कई हिट गजल एल्बम जारी किए

जगजीत सिंह प्रेजेंट्स तलत अज़ीज़
तलत अजीज लाइव (डबल एल्बम)

बेस्ट ऑफ़ तलत अज़ीज़

  • एहसास
  • सुरूर
  • सौघात (डबल एल्बम)
  • तसव्वुर (डबल एल्बम)
  • मंजिल (डबल एल्बम)
  • धड़कन (डबल सीडी पैक)
  • महबूब
  • इरशाद (डबल सीडी पैक)
  • खूबसूरत
  • खुशनुमा
  • सिल्वर एनिवर्सरी कॉन्सर्ट (दो सीडी पैक)
  • सिल्वर एनिवर्सरी कॉन्सर्ट (डीवीडी पैक)
  • कारवां-ए-ग़ज़ाल
  • परचाईयां पार्ट 1
  • परचाईयां पार्ट 2
  • हरदिल अज़ीज़
  • बेताबियाँ
  • जज्बात
  • ग़ज़ल उस्ताद
  • वो शाम

इसे भी पढ़ें :अर्घ्य देने गया युवक तालाब में डूबा, मौत

तलत अज़ीज़ के फ़िल्मी गानें (Talat Aziz Film Song )

साल                फिल्म का नाम                               गाने का नाम

1981              उमराओ जान                            जिंदगी जब भी तेरी बज में
1982              बाजार                                      फिर छिड़ी रात बात फूलों की
1982              लोरी                                         तुम से रोशन है रात मेरी
1989              डैडी                                         आईना मुझसे मेरी
1991              धुन                                           याद आने वाले क्यों
2002              शरारत                                      ना किसी की आंख का
2006              यात्रा                                         साज़ ए दिल नग़मा जानें

तलत अजीत की हमसफर बीना अजीज प्रसिद्ध पेंटर और कलाप्रेमी हैं. इनके दो बेटे अदान अजीज और शयान अजीज हैं.

इसे भी पढ़ें :Ranchi News : 117वां श्री कृष्ण गोपाष्टमी महोत्सव कल, तैयारी पूरी

advt
Adv

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: