न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बीजेपी के पूर्व सांसद अजय मारू के सिटी मॉल के खिलाफ जमीन मालिक ने जारी की आम सूचना

1,490
  • अखबारों में प्रकाशित सूचना के जरीये कहा, अवैध तरीके से पास है नक्शा
  • दुकान खरीदने वालों से आग्रह, पूरी तरह से जांच-पड़ताल कर खरीदें दुकान
mi banner add

Ranchi: बीजेपी के पूर्व सांसद अजय मारू द्वारा हरमू बाईपास में बनवाये गये सिटी मॉल के खिलाफ जमीन मालिक से आम सूचना जारी की है. यह सूचना जमीन मालिक ने अखबारों में प्रकाशित भी करायी है. जारी सूचना में कहा गया है कि मौजा रांची थाना नंबर 205 खाता संख्या 33 ,147,13 और 139, प्लॉट संख्या 591, 580 ,586 ,577 और 579 है. इस जमीन पर रैयत करमा उरांव ने अपना दावा किया है. कहा है कि हरमू बाईपास रोड मुक्तिधाम के समीप आदिवासी रैयत करमा उरांव, पिता कोका उरांव निवासी हिंदपीढ़ी एवं चंद्रदीप कच्छप, पिता महादेव कच्छप निवासी पुरानी रांची की कायमी एवं भूईंहरी जमीन है.

मारू ने अवैध तरीके किया है सिटी मॉल का निर्माण

करमा उरांव ने कहा है कि सभी प्लॉटों पर अजय मारू (पिता सीताराम मारू) ने एक्सप्रेस रेसीडेंसी लिमिटेड कंपनी के नाम से आदिवासी जमीन को अवैध और गैर-कानूनी तरीके से अपने कब्जे में किया है. इसके दस्तावेज और डीड फर्जी हैं. साथ ही फर्जी तरीके से मालगुजारी रसीद भी तैयार कर लिया है. मालगुजारी रसीद अपने नाम से करा कर मॉल निर्माण के लिए आरआरडीए एवं रांची नगर निगम की मिलीभगत से गैर-कानूनी नक्शा भी पास करा लिया है. इसमें सरकार और जिला प्रशासन की भी मिलीभगत है.

सच्चाई छिपाकर बेची जा रही दुकानें

करमा उरांव ने सूचना में यह कहा है कि आम लोगों से सच्चाई को छिपाकर सिटी मॉल की दुकानें बेची जा रही हैं. जिस पर झारखंड विधानसभा की स्थाई एवं उच्च स्तरीय समिति जांच कर रही है. मॉल की दुकान की बिक्री पर अस्थाई रोक भी लगा दी गयी है. वास्तव में सिटी मॉल का निर्माण प्लॉट संख्या 580 और 586 पर हुआ है. जबकि प्लॉट संख्या 591 मेरी जमीन है जो खाली पड़ी है. राहुल मारू (पिता अजय मारू) ने मेरी खाली जमीन पर धोखाधड़ी से सिटी मॉल का निर्माण दिखाकर खाली जमीन को मॉल की दुकानों को लगातार बेच रहे हैं. करना उरांव ने दुकानदारों के आग्रह किया है कि सिटी मॉल की दुकानों को खरीदते समय प्लॉट संख्या 591 की मापी एवं निरीक्षण किसी अमीन से करा कर ही दुकान खरीदें. नहीं तो हमलोगों की कोई जिम्मेवारी नहीं होगी.

इसे भी पढ़ें: निलंबन के बाद विधायक विकास ने कसा तंज, कहा- न खाता न बही, सुदेश जो बोले वही सही

इसे भी पढ़ें: पार्टी फोल्डर में बात रखने के बजाय विधायक विकास मुंडा ने मर्यादा तोड़ी: आजसू

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: