JharkhandRanchi

जीईएल चर्च केंद्रीय परिषद् और सीएनआइ के प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया पांच लाख रुपये का चेक

Ranchi :  जीईएल चर्च चर्च केंद्रीय परिषद् की ओर से मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 लाख दिया गया. परिषद् के एक प्रतिनिधिमंडल ने शनिवार को मुख्यमंत्री के आवास पर मुलाकात की. जहां कोरोना महामारी से निपटने के लिए  मुख्यमंत्री को यह राशि सौंपी गयी.

इस राशि को कोरोना महामारी से बचाव, नियंत्रण और स्वास्थ्य सेवाओं की बेहतरी के लिए किया जायेगा. प्रतिनिधिमंडल का आभार व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरने ने कहा कि महामारी काल में एकजुटता जरूरी है. राज्य के विकास के लिए आपसी सहयोग और एकजुटता महत्वपूर्ण है.

इसे भी पढ़ेंः #Police हिरासत में फांसी लगाने वाले बाइक चोरी के आरोपी के आश्रित को सीएम ने दिया 3 लाख का मुआवजा

Catalyst IAS
ram janam hospital

ऐसे में ही राज्य का विकास संभव है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने जीईएल चर्च केंद्रीय परिषद् की ओर से किये जा रहे प्रयासों की सराहना की.

The Royal’s
Sanjeevani

सरकार को किया जायेगा हर संभव सहयोग

जीईएल चर्च केंद्रीय परिषद् सदस्यों ने इस दौरान मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के प्रयासों की सराहना की. प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान राज्य सरकार ने बेहतर काम किया. आपदा से निपटते हुए अब जन जीवन सामान्य हो रहा है.

जो राज्य सरकार के प्रयासों के कारण संभव है. प्रतिनिधिमंडल ने कहा कोविड 19 जैसी महामारी काल में जीईएल चर्च केंद्रीय परिषद् सरकार के साथ है. आने वाले समय में भी सरकार को हर संभव मदद किया जायेगा.

मौके पर केंद्रीय परिषद रांची के बिशप जॉनसन लकड़ा, महासचिव सुजया कुजूर, कोषाध्यक्ष सह वित्त सचिव प्रदीप कुजुर, संयुक्त सचिव अटल खेस समेत अन्य लोग उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ेंः मुख्यमंत्री ने दिया निर्देश- तकनीकी संस्थानों में सीट खाली न रहे, इसके लिए करें स्पॉट राउंड काउंसलिंग

सीएनआइ प्रतिनिधिमंडल ने दी भी दिया पांच लाख

इसके साथ ही छोटानागुपर डायसिस सीएनआइ के प्रतिनिधिमंडल ने भी मुख्यमंत्री से मुलाकात की. इस दौरान पांच लाख रुपये मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया गया. राशि कोराना महामारी में उपयोग के लिए दी गयी है.

वहीं मनोहरपुर संत अगस्टिन कॉलेज की ओर से भी मुख्यमंत्री राहत कोष में दस हजार दिया गया. इस दौरान सीएनआइ के उपसभापति मार्शलन गुड़िया, राजकुमार नागवंशी समेत अन्य लोग मौजूद रहे.

इसे भी पढ़ेंः केंद्रीय मंत्री ने दे दिया संकेत, जानें कैसा होगा Lockdown 5.0

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button