National

राजस्थान विधायक की खरीद-फरोख्त पर बोले गहलोत- तमाशे को बंद करवाएं मोदी

विज्ञापन
Advertisement

Jaisalmer: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को आरोप लगाया कि भाजपा उनकी सरकार को गिराने के लिए विधायकों की खरीद-फरोख्त का बड़ा खेल खेल रही है. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से राजस्थान में चल रहे इस ‘तमाशे’ को बंद करवाने की अपील की.

गहलोत ने कहा कि दुर्भाग्य से इस बार भाजपा का प्रतिनिधियों की खरीद-फरोख्त का खेल बहुत बड़ा है. वह कर्नाटक एवं मध्य प्रदेश का प्रयोग यहां कर रही है. पूरा गृह मंत्रालय इस काम में लग चुका है.

इसे भी पढ़ें- सुशांत केस की CBI जांच? बोले सीएम नीतीश- पिता करेंगे मांग तो संभव

advt

लड़ाई यह नहीं होती कि आप चुनी हुई सरकार को गिरा दें: गहलोत

उन्होंने कहा कि हमें किसी की परवाह नहीं. हमें लोकतंत्र की परवाह है. हमारी लड़ाई किसी से नहीं है.(हमारी) विचारधारा, नीतियों एवं कार्यक्रमों की लड़ाई है. लड़ाई यह नहीं होती कि आप चुनी हुई सरकार को गिरा दें. हमारी लड़ाई किसी व्यक्ति के खिलाफ नहीं है, हमारी लड़ाई लोकतंत्र को बचाने की है.

उन्होंने कहा कि मोदी को प्रधानमंत्री के रूप दूसरी बार जनता ने मौका दिया जो बड़ी बात है. उन्हें चाहिए कि राजस्थान में जो कुछ तमाशा हो रहा है उसे बंद करवाएं. केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत द्वारा सरकार के खिलाफ ट्वीट किए जाने के बारे में गहलोत ने कहा कि सिंह तो अपनी झेंप मिटा रहे हैं जबकि आडियो टेप मामले में उन्हें नैतिकता के आधार पर खुद ही इस्तीफा दे देना चाहिए.

इसे भी पढ़ें- सिंधिया के लिए मुश्किलें, राज्यसभा के निर्वाचन पर कांग्रेस पहुंची कोर्ट, याचिका दायर

आलाकमान माफ करता है तो बागियों को लगा लेंगे गले

उनके नेतृत्व से नाराज होकर अलग होने वाले सचिन पायलट एवं 18 अन्य कांग्रेस विधायकों की वापसी के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि यह फैसला पार्टी आलाकमान को करना है. अगर आलाकमान उन्हें माफ करता है तो वे भी बागियों को गले लगा लेंगे.

उल्लेखनीय है कि राजस्थान में चल रहे सियासी घमासान में विधायकों को तोड़ने की आशंका के बीच कांग्रेस एवं उसके समर्थक विधायकों को शुक्रवार को राजधानी जयपुर से दूर सीमावर्ती शहर जैसलमेर स्थानांतरित कर दिया गया. सभी विधायकों को यहां 15 दिनों के लिए रखा जायेगा. इस दौरान विधायक अपने परिवार के साथ होटल में ही समय बीता सकते हैं या फिर इस दौरान आने वाले त्योहारों को मना सकते हैं.

इसे भी पढ़ें- गोरक्षा के नाम पर तांडवः 8 किमी तक पीछा कर शख्स को हथौड़े से मारा, तमाशबीन बनी रही पुलिस!

advt
Advertisement

5 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close
%d bloggers like this: