न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जनता मजदूर संघ के श्रमिक नेता गया प्रताप सिंह का निधन

शनिवार को बनारस में इलाज के दौरान हुई मौत, रविवार को होगा अंतिम संस्‍कार

217

Jhariya (Dhanbad) :  जनता मजदूर संघ के युवा और जुझारू नेता गया प्रताप सिंह का बनारस में इलाज के दौरान निधन हो गया. कुछ दिन पहले वैष्‍णो देवी से लौटने के क्रम में उनकी तबीयत खराब हो गयी थी. इसके बाद इलाज के लिए उन्‍हें बनारस के हैरिटेक अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गयी.

mi banner add

इसे भी पढ़ें-चार माह में रिकॉर्ड 413 अफसर बदले, 40 IAS भी इधर से उधर, हर दिन औसतन दो ऑफिसर का हुआ ट्रांसफर

विधायक संजीव सिंह के माने जाते थे करीबी

Related Posts

लोहरदगा : मुठभेड़ में JJMP के तीन उग्रवादियों को पुलिस ने किया ढेर, दो AK-47 बरामद

पुलिस के अनुसार कुछ और उग्रवादियों को गोली लगी है जिन्हें उनके साथी लेकर भागने में सफल रहे

गया प्रताप सिंह के आकस्मिक निधन की खबर कोयलांचल में आग की तरह फ़ैल गयी. गया सिंह झरिया के युवा और चर्चित नेता थे. सिंह कई सालों से जनता मजदूर संघ कुंती गुट के साथ जुड़े हुए थे. झरिया के शिमलाबहाल, राजापुर कोलयरी तथा बीएनआर साइडिंग में गया सिंह की अच्छी वर्चस्व थी. गया सिंह जनता मजदूर संघ और सिंह मेंशन के काफी करीबी रहे चुके थे, लेकिन बीच में कुछ विवादों को लेकर गया सिंह ने जनता मजदूर संघ छोड़ दिया था. जनता मजदूर संघ छोड़ने के बाद गया सिंह जेवीएम समेत कई दूसरे यूनियन से जुड़े और फिर अपनी अलग पहचान बनाई.

काफी दिन दूसरे यूनियन से जुड़ने के बाद फिर से जनता मजदूर संघ ने गया सिंह को अपने यूनियन में आने के लिए न्योता दिया. सिंह ने भी फिर से जनता मजदूर संघ का दामन थामा और बीजेपी में शामिल हो गए. वे झरिया विधायक संजीव सिंह के काफी करीब रहने लगे. जिसे लेकर नीरज सिंह हत्याकांड में इनका का भी नाम आया था.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: