न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गढ़वा : कवाड़ी गांव के ग्रामीणों ने अभिमन्यु सिंह को सुनाई अपनी व्यथा

409

Garhwa :  झारखंड नवनिर्माण मोर्चा के केंद्रीय अध्यक्ष अभिमन्यु सिंह उर्फ बबलू सिंह गढ़वा जिला अंतर्गत और विश्रामपुर विधानसभा क्षेत्र के कांडी प्रखंड अंतर्गत कवाड़ी गांव पहुंचे. ग्रामीणों ने सिंह का अभिवादन जोरदार ढंग से किया. बारी-बारी से ग्रामीणों ने सिंह को आजादी के बाद से अब तक नहीं बनी सड़क की समस्या से अवगत कराया और कहा कि यह रोड बन जाने से महुली, कवाड़ी गांव के लगभग एक हजार घरों के परिवार के लिए सीधा रास्ता मेन रोड से जुड़ जाएगा और कुछ हद तक परेशानी खत्म हो जाएगी.

इसे भी पढ़ेंःपंडरा लूटकांड में तीन संदिग्धों से पुलिस कर रही पूछताछ, मास्टर माइंड की तलाश जारी

जनता की समस्‍या से कोई लेना देना नहीं हैं मंत्री का

hosp1

मोर्चा अध्यक्ष ने सड़क का निरीक्षण कर कहा कि बड़ा ही दुर्भाग्य है विश्रामपुर विधानसभा क्षेत्र के प्रत्येक गांव की यही दशा है बरसात में लोग कीचड़ में सड़क पार करते हैं. सिंह ने कहा कि पूर्व के जनप्रतिनिधियों के द्वारा अपना साम्राज्य स्थापित करने में ज्यादा समय बीत गया, जबकि जनता  की समस्याओं के समाधान का फुर्सत नहीं रहा. जनप्रतिनिधियों का पुत्र मोह में अधिक ध्यान रहता है.

कहा कि दलित का जमीन लूटकर वर्तमान मंत्री के द्वारा बिश्रामपुर कॉलेज में सड़क बनाया जा रहा है जबकि क्षेत्र के कई ऐसे इलाके हैं जहां अच्छी सड़क नहीं हैं. बच्चे कीचड़ में पैर रखकर स्कूल जाने पर विवश हैं.  लोग बीमार होने के बाद गांव में गाड़ी जाना दुर्लभ हो गया है. समस्याओं का अंबार पूरे क्षेत्र में है पर यहां के प्रतिनिधियों को अपना विकास दिखता है.

इसे भी पढ़ेंःझारखंड के कोयले से बिजली उत्पादित करने वाले राज्य झारखंड को ही बेचते हैं सालाना 3000 करोड़ की बिजली

अपने खर्च से बनाउंगा कवाड़ी गांव में सड़क

कवाड़ी गांव के ग्रामीणों ने अभिमन्यु सिंह को एक ज्ञापन सौंपकर सड़क बनवाने की मांग की. जिस पर सिंह ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि बहुत जल्द आपके गांव में सड़क की उचित व्यवस्था कर दी जाएगी. हम अपने निजी खर्च से यह सड़क बनवा कर जनता के आने जाने का मार्ग सुदृढ़ करेंगे. मौके पर झारखंड नवनिर्माण मोर्चा के कार्यकर्ता सहित सैकड़ों की संख्या में महिलाएं एवं युवा शामिल थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: