GarhwaJharkhand

#Garhwa: पांच दिनों से लापता युवक का शव कुएं में मोटरसाइकिल से बंधा हुआ मिला, हत्या की आशंका

विज्ञापन

Palamu/Garhwa: पलामू प्रमंडल के गढ़वा जिले में पांच दिनों से लापता युवक की लाश बरामद की गयी है. युवक के शव को मोटरसाइकिल से बांधकर एक कुएं में फेंका गया था.

गढ़वा जिले के मेराल थाना क्षेत्र के गोंदा गांव के किशुन बांध से सटे पक्के कुएं से एक युवक का शव बरामद हुआ है. युवक की पहचान सूरज कुमार उरांव के रूप में हुई है.

युवक पांच दिनों से लापता था. युवक का शव कुएं में बाइक से बंधा हुआ पाया गया है. शव बरामदगी से पूरे इलाके में सनसनी फैल गयी.

परिजनों के अनुसार मेराल प्रखंड मुख्यालय के स्वर्गीय जग्गू उरांव का 23 वर्षीय पुत्र सूरज कुमार उरांव पिछले मंगलवार की शाम को मोटरसाइकिल से निकला था, लेकिन घर वापस नहीं आया.

इसे भी पढ़ें – #Corona हॉटस्पॉट बना रांची का हिन्दपीढ़ी इलाका हुआ पूरी तरह से कंटेनमेंट जोन मुक्त

ऐसे चला शव का पता 

बुधवार को उसका पर्स एवं चप्पल मेराल के ही बंका रोड में सरस्वतीया नदी पुल के समीप पाया गया था. तभी से परिजन तथा मेराल थाना पुलिस उसकी खोजबीन में जुट गयी थी.

रविवार की शाम गोंदा के कुछ युवकों ने पक्का कुआं में आदमी का पंजा ऊपर देख कर मुखिया समेत अन्य लोगों को इसकी जानकारी दी.

मुखिया प्रकाश कुमार अरुण ने तत्काल इसकी सूचना मेराल थाना प्रभारी रामेश्वर उपाध्याय को दी.

जानकारी मिलते ही पुलिस निरीक्षक लक्ष्मीकांत, थाना प्रभारी रामेश्वर उपाध्याय दल बल के साथ किशुन बांध पहुंचे. पुलिस की मौजूदगी में ग्रामीणों की मदद से बाईक में बंधे हुए शव को कुआं से बाहर निकाला गया.

इसे भी पढ़ें – #LockDown में बंद पड़े सभी क्षेत्रों को खोल सकती है हेमंत सरकार, फैसला सोमवार को

प्रेम प्रसंग में हुई हत्या!

चर्चा है कि सूरज कुमार उरांव की हत्या प्रेम प्रसंग में हुई है. वह मेराल के ही एक युवती से प्रेम करता था और वहां अक्सर वह आता जाता था.

मंगलवार की देर शाम उसे वही देखा गया था. बुधवार की सुबह उसका पर्स एवं चप्पल बंका रोड में सरसतिया नदी किनारे मिला था.

चर्चा यह भी है कि उसकी हत्या कर शिनाख्त छुपाने के लिए शव को बाईक से बांधकर कुएं में डाल दिया गया था.

शव को देखने से प्रतीत हो रहा था कि 5 दिन पूर्व ही उसकी हत्या कर कुएं में डाला गया होगा.

इसे भी पढ़ें – #Unlock1.0 : 1 जून से झारखंड में शुरू नहीं हो पायेगी स्कूलों में पढ़ाई

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close