GarhwaJharkhand

#Garhwa: अस्तबल नुमा हॉस्पिटल में टॉर्च की रोशनी में ऑपरेशन, प्रशासन ने छापामारी कर सील किया

विज्ञापन

Garhwa: पलामू प्रमंडल के गढ़वा जिले में अस्तबल नुमा हॉस्पिटल में टॉर्च की रोशनी में मरीज का ऑपरेशन किया गया.

मामले की सूचना के बाद जब प्रशासन ने कार्रवाई की तो हॉस्पिटल संचालक मौके से फरार हो गया. इस संबंध में वंशीधर अनुमंडलीय स्वास्थ विभाग द्वारा हॉस्पिटल संचालक के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है.

एसडीओ कमलेश्वर नारायण ने स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ यहां  श्री बंशीधर नगर रेलवे स्टेशन के सामने अस्तबल में चल रहे अस्पताल को पकड़ा. मरीज राजो देवी को निकाल कर अनुमंडलीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

advt

इसे भी पढ़ें : दीपिका, राजेंद्र और बन्ना होंगे हेमंत सरकार में कांग्रेस कोटे से मंत्री!

एफ आलम ने किया ऑपरेशन

अस्पताल की जांच करते एसडीओ

महिला के परिजनों ने बताया कि ब्लॉक मोड़ के एफ आलम ने ऑपरेशन किया है. छापेमारी की भनक मिलते ही अस्पताल के पीछे से उसके स्टाफ और संचालक फरार हो गये.

वहां से ऑपरेशन में उपयोगी उपकरण और गर्भनिरोधक गोलियां आदि बरामद हुई हैं. एसडीओ के निर्देश पर अनुमंडलीय अस्पताल की डीएस डॉ सुचित्रा कुमारी ने अस्पताल के संचालक और स्टॉफ के ऊपर एफआइआर की है.

इसे भी पढ़ें : झारखंड में कितनी सुरक्षित हैं महिलाएं, हर तीसरे दिन हो रहा रेप और आपसी विवाद में हत्या  

adv

24 हजार रुपये मांगे थे

जब्त उपकरण.

राजो देवी के दामाद उपेंद्र उरांव ने बताया कि भोर में टॉर्च की रोशनी में ऑपरेशन हुआ है. इसके लिए एफ आलम ने उससे 24 हजार रूपये मांगे थे, लेकिन उसने 15 हजार रुपये दिये हैं.

ब्लॉक के उपेंद्र से आलम ने कहा कि उसकी सास का पथरी का ऑपरेशन किया गया है. राजो केतार थाना क्षेत्र के चांदडीह गांव की रहने वाली है.

छापेमारी में एसडीओ कमलेश्वर नारायण के साथ बीडीओ अमित कुमार, सीओ अरुणिमा एक्का, डीएस डॉ सुचित्रा कुमारी, डॉ संतोष कुमार एवं पुलिस अधिकारी अशोक कुमार और पुलिस बल के लोग शामिल थे.

इसे भी पढ़ें : Interview : ..फिर क्या भाजपाई हो जायेंगे प्रदीप यादव ! जानिये क्या कहा न्यूजविंग से

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button