JharkhandPalamu

गढ़वा: सनकी अधेड़ ने चौकीदार के परिवार पर टांगी से बोला हमला, बच्चे की मौत- गर्भवती महिला गंभीर

Palamu : पलामू प्रमंडल के गढ़वा जिले के रमकंडा थाना क्षेत्र में एक 55 वर्षीय अधेड़ ने चौकीदार के परिवार पर टांगी से हमला बोला. इस घटना में चौकीदार के पोते की मौत हो गयी. जबकि पतोहू गंभीर रूप से जख्मी है. महिला को बेहतर इलाज के लिए मेदनीनगर के मेदिनी राय मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है. सबसे बड़ी बात यह रही कि इस घटना के बाद महिला के पेट में पल रहे उसके बच्चे की भी मौत हो गयी है. महिला के सिर में गंभीर जख्म है.

इसे भी पढ़ेंः हां, मैं आंदोलनजीवी हूं और आंदोलनकारी भी

जानकारी के अनुसार रमकंडा थाना क्षेत्र के दाहो गांव में नन्हेश्वर परहिया नामक अधेड़ ने इसी क्षेत्र के चौकीदार जुगल परहिया के परिवार पर अचानक टांगी (धारदार हथियार) से हमला बोला. ननहेश्वर ने सबसे पहले जुगल के पोते गौतम परहिया (6वर्ष) पर वार किया. गौतम पर टांगी से वार करते देख उसकी मां बरती देवी (28 वर्ष) उसे बचाने के लिए दौड़ी. बीच-बचाव के दौरान अधेड़ ने बरती देवी पर भी टांगे से वार किया.

उसके सिर पर वार करने से महिला लहूलुहान हो गयी. इलाज के दौरान गौतम की मौत हो गयी. वहीं उसकी मां की स्थिति गंभीर बनी हुई है.  घटना के बाद ग्रामीणों की मदद से घायलों को इलाज के लिये मेदिनीनगर के सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

advt

घटना की सूचना मिलने के बाद रमकंडा पुलिस ने दाहो गांव पहुंचकर मामले की जानकारी ली. पूछे जाने पर थाना प्रभारी रामकृष्ण सिंह ने बताया कि घटना के बाद पुलिस मामले की जांच कर रही है. बताया कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. उसे रविवार को जेल भेज दिया गया. आरोपी रंका थाना क्षेत्र के जोलंगा गांव का रहने वाला है. कुछ दिन पहले ही दाहो गांव में अपनी बेटी के घर आया था.

इसे भी पढ़ेंः रांची में लापता छात्र का शव घर के समीप कुएं से मिला

 

घटना के कारण स्पष्ट नहीं

रमकंडा थाना प्रभारी ने बताया कि घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे और किसी तरह से आरोपी को गिरफ्तार किया. आरोपी टांगी लिए हुए था और ग्रामीणों से काबू में नहीं आ पा रहा था. घटना के बाद ग्रामीणों से उसकी एक्टिविटी पर ध्यान रखने की बात कही गयी थी. टांगी से हमला कर आरोपी पास की नदी में  गया था. वहां टांगी धो रहा था, इसी दौरान चारों तरफ से घेराबंदी कर उसे पकड़ा गया. थाना लाने के बाद जब उससे पूछताछ की गयी तो उसने बताया कि अचानक उसके मन में अचानक टांगी से वार करने का विचार आया और उसने घटना को अंजाम दिया. पहले से किसी तरह का कोई मामला नहीं था.

थाना प्रभारी ने कहा कि आरोपी की दिमागी हालत पूरी तरह से ठीक है. शुरुआत में सूचना मिली थी कि उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है, लेकिन ऐसा कुछ भी छानबीन के दौरान सामने नहीं आया.

जिंदगी और मौत से जूझ रही है महिला

घटना के बाद मेदनीनगर में भर्ती की गयी बरती देवी जिंदगी और मौत से जूझ रही है. उसके दोनों बच्चों (एक गर्भ के दौरान) की मौत हो जाने से महिला पूरी तरह से टूट गयी है और सिर में गंभीर जख्म आने के कारण महिला की स्थिति गंभीर बनी हुई है. उसका पति अमर परहिया घटना के बाद से परेशान है और बच्चों को खोने के बाद पत्नी की जान बचाने के लिए प्रयास में जुटा है.

इसे भी पढ़ेंः 13 जून को होगी क्लैट की परीक्षा, एडमिशन के लिए 31 मार्च तक करें आवेदन

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: