Garhwa

गढ़वा: छह अंतरप्रांतीय सड़क लुटेरे सहित आठ गिरफ्तार-दो ट्रक, एक स्कॉर्पियो और हथियार बरामद

Garhwa: पलामू प्रमंडल के गढ़वा जिले में गुरुवार को पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी. पुलिस ने गढ़वा-अंबिकापुर मार्ग पर लूटपाट करने वाले छह शातिर अंतरप्रांतीय लुटेरों को जहां गिरफ्तार किया. वहीं गत 25 दिसम्बर को डकैती कांड में शामिल दो डकैतों को भी धर दबोचा है.

इसे भी पढ़ेंःकंबल घोटालाः जांच की चिट्ठी को रघुवर दास के प्रधान सचिव सुनील बर्णवाल ने दबाए रखा

दोनों मामलों को लेकर गुरुवार दोपहर अपने कार्यालय कक्ष में पत्रकारों को जानकारी देते हुए गढ़वा एसपी अश्विनी कुमार सिन्हा ने कहा कि गढ़वा-अंबिकापुर मार्ग पर वाहन लूटने वाले गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश किया गया. इस सिलसिले में छह लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है.

ram janam hospital
Catalyst IAS

लूट की योजना को किया गया विफल

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि बुधवार की रात्रि में अनराज डैम वाले रास्ते में कुछ लोग लूट की योजना बना रहे हैं. सूचना के आधार पर थाना प्रभारी अशोक कुमार सिंह के नेतृत्व में छापामारी टीम का गठन करते हुए अनराज डैम के रास्ते में छापामारी की गई.

पुलिस ने डकैती की योजना बना रहे हैं छह अपराधी को तीन लोडेड देसी कट्टा और छह जिंदा गोली के साथ गिरफ्तार किया.

पूर्व में भी गए हैं जेल

गिरफ्तार अपराधी पूर्व में भी कई कांडों में शामिल रहे हैं और वे लोग जेल भी जा चुके हैं. छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर से 21 दिसंबर को एक स्कॉर्पियो की चोरी हुई थी. जिसकी प्राथमिकी मणिपुर चौकी में दर्ज करायी गयी थी.

लूटी गई स्कॉर्पियो से उक्त सभी अपराधियों ने 22 दिसंबर की रात्रि गढ़वा-रंका रोड स्थित मोहनिया के पास से गुड़ लोड एक ट्रक (सीजी 04 एम एल 4764) को गायब कर दिया था. ट्रक अंबिकापुर से गुड़ लेकर बिहार के मोकामा जा रहा था.

लूटा ट्रक और गुड़ बिहार से बरामद

लूटने के बाद औरंगाबाद में ट्रक और गुड़ बेचने के क्रम में ट्रक को पुलिस ने बरामद कर लिया. उन्होंने बताया कि गिरोह के सदस्यों ने 27 दिसंबर को उसी रोड में मकई लोड ट्रक (बीआरओ 2 एम 8902) में लूटपाट करते हुए माल सहित बेचने वाले थे.

छापामारी के क्रम में उक्त ट्रक को फरठिया मोड़ से बरामद किया गया. अपराधियों ने ट्रक चालक से पचास हजार रुपए और मोबाइल भी लूट लिए थे.

इसे भी पढ़ेंःएक करोड़ की जगह 14.27 करोड़ में दिया गया एजेंसी को काम, बिजली बोर्ड के 5 अधिकारियों पर 6 साल बाद भी नहीं हुई कार्रवाई

लुटेरों ने स्वीकारी संलिप्तता

उन्होंने बताया कि पकड़े गए सभी अपराधियों ने तीनों कांड में अपना अपराध स्वीकार कर लिया है. इस गिरोह का सरगना मेराल थाना क्षेत्र के बसरिया गांव के जितेंद्र कुमार पासवान है, जिसे रंगेहाथ हथियार के साथ गिरफ्तार किया गया है.

एसपी ने बताया कि मेराल थाना के चामा गांव निवासी सोबराती हजाम, दुलदुलवा के सदाकत अंसारी, पेसका के अंजनी पासवान, अधौरी के राहुल कुमार शर्मा और दवा थाना क्षेत्र के धर्मडीहा के अजीज अंसारी को गिरफ्तार किया गया है.

झारखंड-छतीसगढ़ में लूट की घटनाओं पर लगेगा अंकुश

इस गिरोह की गिरफ्तारी से डकैती और लूट कांड का पर्दाफाश हुआ है. इन सबों की गिरफ्तारी से छत्तीसगढ़ एवं झारखंड में सड़क डकैती और लूट की घटना पर अंकुश लगेगा.

एसपी ने बताया कि पुलिस ने उन लोगों के पास से एक स्कॉर्पियो, दो ट्रक सामान सहित, तीन देसी कट्टा, छह जिंदा गोली, चालक का एक मोबाइल सहित छह मोबाइल बरामद किए गए हैं.

एसपी ने बताया कि छापामारी टीम में थाना प्रभारी के अलावा नीतीश कुमार, अभिमन्यु कुमार सिंह, कन्हैया कुमार और नीतेश कुमार शामिल थे.

डकैती कांड के दो आरोपी गिरफ्तार

इसके साथ ही गढ़वा के डंडई थाना क्षेत्र में गत 25 दिसंबर को हुई डकैती की घटना में शामिल दो आरोपियों को मेराल थाना क्षेत्र के गेरुआ सोती से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

एसपी श्री सिन्हा ने बताया कि डकैती कांड के लिए बनाई गई छापामारी दल की टीम ने मेराल थाना क्षेत्र के कुंभी गांव निवासी ललन भुईयां उर्फ ललन कुमार और राजहरा के प्यारी भुईयां को गिरफ्तार किया है.

एसपी ने बताया कि ललन भुईयां के पास से लूटा हुआ एक हजार और प्यारी भुईयां के पास से लूटा हुआ सात हजार कुल आठ हजार रुपया बरामद किये गये हैं. बताया कि इस घटना में चार लोगों को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है.

इसे भी पढ़ेंःझारखंड प्रदेश कांग्रेस नेतृत्व में हो सकता है बड़ा बदलाव!

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button