1st LeadGarhwaJharkhand

गढ़वा: एंबुलेंस सिस्टम फेल, ठेले से मरीज को लाया गया अस्पताल

Garhwa : जिले में एंबुलेंस सिस्टम फेल हो गया है. यहां कॉल करने के बाद भी नियत समय सीमा के भीतर एंबुलेंस की सेवा लोगों को नहीं मिल रही है. नतीजा ठेला से मरीज को अस्पताल पहुंचाया जा रहा है. मामला सोमवार का है. 108 पर कॉल करने बाद जब एंबुलेंस नहीं पहुंची तो मरीज को उनके परिजन ठेला पर लेकर अस्पताल पहुंच गये. यह मामला जिले के श्री बंशीधर नगर (नगर उंटारी) से जुड़ा हुआ है.

श्री बंशीधर नगर थाना क्षेत्र के अहिरपुरवा में पति-पत्नी के विवाद में हुई मारपीट की घटना में पांच लोग घायल हो गये थे. घायल के परिजनों ने एंबुलेंस के लिये फोन किया. काफी देर तक एंबुलेंस के नहीं आने पर लोग गंभीर रूप से घायल दो लोगों को ठेले पर लादकर अनुमंडल अस्पताल पहुंचे.

बताया गया कि श्री बंशीधर नगर थाना क्षेत्र के अहिपुरवा गांव में पति-पत्नी के बीच आपस में विवाद चल रहा था. दोनों के बीच विवाद इतना बढ़ गया कि बीच बचाव करने पहुंचे लड़के के ससुराल वालों के बीच जमकर मारपीट हो गयी, जिससे दोनों पक्षों से पांच लोग घायल हो गये.

Catalyst IAS
SIP abacus

घटना में वीरेंद्र राम की मां सोनपतिया देवी की हालत गंभीर हो गयी, जिसके बाद उसने 108 नंबर पर एंबुलेंस के लिए कॉल किया. किन्तु एंबुलेंस कॉल सेंटर से एक घंटे में एंबुलेंस आने की बात कही गयी.

Sanjeevani
MDLM

मां की हालत गंभीर होता देख एवं तत्काल गांव में कोई साधन नहीं मिलने के कारण उसने अचेतावस्था में पड़ी अपनी मां को आनन-फानन में ठेले पर लादकर इलाज के लिए अनुमंडल अस्पताल पहुंचा. जहां चिकित्सकों के द्वारा उसका इलाज किया जा रहा है.

उल्लेखनीय है कि गढ़वा जिले में स्वास्थ्य विभाग अपने कारनामों के कारण हमेशा सुर्खियों में रहा है. उसके बाद भी स्वास्थ्य विभाग के द्वारा सिस्टम में कोई सुधार नहीं किया जा रहा है, जिससे स्वास्थ्य विभाग की जमकर किरकिरी हो रही है.

उधर इस संबंध में पूछने पर सीएस डॉ कमलेश कुमार ने कहा कि मामले की जांच कर दोषी के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी.

 

इसे भी पढ़ें : राज्यसभा चुनाव 2022 : राजनीतिक पंडितों की भविष्यवाणी पर भारी पड़ी सरयू की तैयारी, महुआ के आगे कांग्रेस बेचारी

Related Articles

Back to top button