न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गढ़वा : छापेमारी अभियान में ध्वस्त की गयी 50 अवैध शराब की भट्ठियां, 30 क्विंटल जावा महुआ भी किया नष्ट

मौके से शराब बनाने के कई उपकरण समेत डेढ़ सौ ड्रम, सेनेटरी टंकी बरामद

579

Garhwa : जिले की मेराल पुलिस ने क्षेत्र में चल रहे अवैध शराब भट्ठी के खिलाफ अभियान चलाते हुए 50 अवैध महुआ शराब भट्ठियों को ध्वस्त किया. साथ ही लगभग 30 क्विंटल जावा महुआ को भी नष्ट कर दिया. इसके अलावा पुलिस ने मौके से शराब बनाने के कई उपकरण समेत डेढ़ सौ ड्रम, सेनेटरी टंकी बरामद किया है.

इसे भी पढ़ें- बीजेपी सांसदों ने केंद्रीय ऊर्जा मंत्री से कहा : झारखंड में नहीं मिलती 10 घंटे भी बिजली, केंद्रीय मंत्री ने कहा- CM से करूंगा बात

नष्ट किए गए शराब बनाने के सामान

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार गढ़वा पुलिस अधीक्षक शिवानी तिवारी के निर्देश पर यह कार्रवाई की गई है. मेराल थाना प्रभारी गुप्तेश्वर तिवारी के अनुसार दुलदुलवा गांव में महुआ शराब बनाने का कारोबार गृह उद्योग का रूप ले रहा था. कुछ घरों को छोड़कर जिस घर में छापेमारी हुई सभी में शराब बनाने के सामान पाए गए. लोगों द्वारा शराब बनाने के लिए सेनेटरी टंकी को जमीन के अंदर गाड़ कर तैयार किए गए करीब 30 क्विंटल जावा महुआ में मिट्टी तेल डालकर बर्बाद किया गया. वहीं, शराब बनाने के लिए रखे गए बर्तनों को भी नष्ट कर दिया गया.

मौके से सभी पुरुष थे फरार गढ़वा : छापेमारी अभियान में ध्वस्त किए गए 50 अवैध शराब भट्ठी, 30 क्विंटल जावा महुआ भी किया नष्ट

कार्रवाई गुप्त रखने के बावजूद भी मौके से किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हो सकी और ना ही मौके से शराब बरामद हुआ. थान प्रभारी ने बताया कि सुबह के चार बजे घर की सभी महिलाएं जगी हुई थी लेकिन सभी पुरुष फरार थे. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यहां से पलामू प्रमंडल सहित पड़ोसी राज्य बिहार और छत्तीसगढ़ में भी शराब की सप्लाई की जाती है.

इसे भी पढ़ें- यशवंत सिन्हा का ट्वीट- पहले मैं लायक बेटे का नालायक बाप था, अब रोल बदल गया है

थान प्रभारी ने लोगों को शराब का कारोबार नहीं करने की दी चेतावनी

छापामारी के दौरान गांव के लोगों को एकत्रित कर थाना प्रभारी गुप्तेश्वर तिवारी ने कहा कि एसपी के निर्देश पर जिलेभर में नशामुक्ति अभियान चलाया जा रहा है. साथ ही उन्होंने लोगों से शराब छोड़ने की अपील की. और चेतावनी दी कि शराब के कारोबार में शामिल पाए जाने पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी. छापेमारी अभियान में एसआई रामचंद्र राम, एएसआई एल बी हरिजन, रामूराम गोपासी, जितेंद्र बारला, लाइन परिचारी महेश प्रसाद के अलावे बडी संख्या में सशस्त्र पुलिस बल, लाठी बल के साथ-साथ महिला पुलिस बल भी शामिल थी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: