Garhwa

गढ़वा: ठग गिरोह के मास्टरमाइंड सहित 5 गिरफ्तार, फर्जी लेटर पैड, मुहर, लैपटॉप और मोबाइल बरामद

Garhwa: गढ़वा पुलिस ने रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर युवाओं से ठगी करने वाले एक अंतरराज्यीय गिरोह का खुलासा किया है. गढ़वा एसडीपीओ ओमप्रकाश तिवारी के नेतृत्व में इस गिरोह के मास्टर माइंड समेत पांच लोगों को पुलिस ने बिहार के सासाराम से गिरफ्तार कर लिया है. एसडीपीओ श्री तिवारी ने बताया कि इनके पास से रेलवे के फर्जी लेटर पैड, मुहर, लैपटॉप और मोबाइल बरामद किया गया है.

नौकरी के नाम पर ठगी

उन्होंने बताया कि इस गिरोह द्वारा गढ़वा के मंजूर आलम नामक युवक से इलाहाबाद रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर 85 हजार रुपये लिये गये थे. रुपये लेने के बाद इस गिरोह ने एक नकली लेटर बनाकर मंजूर को दिया था. इसके बाद गिरोह द्वारा 15 हजार रुपये की और मांग की गयी. इसके बाद मंजूर समझ गया कि उसे ठग लिया गया है. उसने इस गिरोह के खिलाफ गढ़वा थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी.

झारखंड समेत यूपी-बिहार के लोग हुए ठगी के शिकार

गढ़वा एसपी शिवानी तिवारी के निर्देश पर बिहार के रोहतास जिला से सरगना अरविंद कुमार और उसके चार सहयोगियों को पकड़ लिया गया. एसडीपीओ ने बताया कि गिरफ्तार लोगों ने बताया कि वे झारखंड सहित बिहार और यूपी के सीमावर्ती क्षेत्रों में कई लोगों से रेलवे में नौकरी और ठेकेदारी दिलाने के नाम ठगी कर चुके हैं. सभी पांचों को आज गढ़वा मंडल कारा भेज दिया गया.

इसे भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ और उत्तराखंड से महंगी है झारखंड में बिजली, अब वितरण निगम को 43 लाख कंज्यूमर से चाहिए 21,629 करोड़

Related Articles

Back to top button