Saraikela

गम्हरिया थानेदार ने सड़क जाम के दौरान की लाठीचार्ज, पत्रकारों को दी धमकी

Sarikela : झारखंड में प्रशासनिक विफलता एक बार फिर से सामने आई है. जहां सरायकेला-खरसावां पुलिस ने सड़क जाम पर बैठे निहत्थे महिला और पुरुषों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा. यहां तक कि महिलाओं पर लाठीचार्ज करने के लिए पुलिस ने महिला पुलिस को बुलाना भी जरूरी नहीं समझा. इतना ही नहीं इस लाठीचार्ज का कवरेज कर रहे मीडियाकर्मियों को भी पुलिस ने नहीं बख्शा. जहां गम्हरिया थाना प्रभारी कृष्ण मुरारी ने पत्रकारों का मोबाईल छीन लिया और देख लेने तक की धमकी दे डाली. दरअसल पूरा मामला एक युवक का शव उसके घर के बरामदे से मिलने के बाद शुरू हुआ. राजनगर निवासी 24 वर्षीय युवक सरायकेला के कुदरसाई स्थित एक किराए के मकान में रहता था. जो हीरो शो रूम में काम करता था. सोमवार को दिन के एक बजे ही वापस लौट गया था. सुबह उसके घर से उसका शव बरामद किया गया. इसके बाद परिजनों ने हत्या की आशंका जताते हुए टाटा-सरायकेला मुख्य मार्ग को जाम कर दी. परिजनों ने शव लेने से इंकार कर दिया. लगातार सड़क पर जाम की स्थिति को देखते हुए पुलिस ने अपना संतुलन खो दिया और सड़क जाम पर बैठे निहत्थे महिला, पुरुष और युवक की मां व बहन पर लाठीचार्ज कर दी.

Related Articles

Back to top button