Crime NewsJamshedpurJharkhandSaraikela

सड़क जाम कवर रहे पत्रकारों से गम्हरिया थाना प्रभारी ने की बदसलूकी, कैमरा छीना, विरोध में धरना पर बैठे पत्रकार

सरायकेला में हीरो शोरूम में काम करनेवाले युवक की संदिग्ध हालत में लाश मिलने से उबले ग्रामीणों ने की सड़क जाम, पुलिस ने लाठीचार्ज कर हटाया, मृतक की बहन और मौसी से दुर्व्यवहार

Saraikela : सरायकेला थाना अंतर्गत कुदरसाईं में किराये के मकान में रहनेवाले दिगरध्वज महतो उर्फ सम्राट महतो (24) का शव मंगलवार को उसके कमरे से मिला. शव के सामने कई आपत्तिजनक सामग्री पड़ी हुई थी. सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल पहुंचाया. खबर पाकर सम्राट के परिजन एवं ग्रामीण पोस्टमार्टम हाउस पहुंच गये. उन्होंने घटना की पूरी जांच होने तक शव लेने से इनकार करते हुए पोस्टमार्टम हाउस के समक्ष सरायकेला-टाटा मुख्य सड़क को जाम कर दिया. स्थानीय पुलिस ने लोगों ने सड़क जाम हटाने के लिए अनुरोध किया, लेकिन वे जांच रिपोर्ट मिलने तक जाम नहीं हटाने पर अड़े रहे. जाम की खबर पाकर गम्हरिया थाना प्रभारी कृष्ण मुरारी एवं कांड्रा थाना प्रभारी राजन कुमार पुलिस बल के साथ जाम स्थल पर पहुंचे और ग्रामीणों पर लाठी चार्ज कर दिया. पुलिस ने जाम में शामिल महिलाओं के साथ भी हाथापाई की. आरोप है कि महिला पुलिस की अनुपस्थिति में गम्हरिया थाना प्रभारी ने मृतक की बहन व मौसी के साथ मारपीट की. इसके बाद पुलिस मृतक सम्राट के भाई व पिता को थाना लेकर चली गयी. इस दौरान समाचार संकलन कर रहे पत्रकारों के साथ भी पुलिस ने बदसलूकी की. इस बीच गम्हरिया थाना प्रभारी द्वारा न्यूज़ कवरेज करने के दौरान दो मीडियाकर्मियों सुमन मोदक एवं गोलक बिहारी के साथ बदसलूकी एवं कैमरा छीनने के विरोध में जिले के पत्रकार सरायकेला थाने में अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए हैं. उनकी मांग है कि थाना प्रभारी को बर्खास्त किया जाये.

इसे भी पढ़ें – जुबली पार्क रोड बंद होने का साइड इफेक्ट, बाग-ए-जमशेद गोलचक्कर के पास ट्रैफिक व्यवस्था चरमरायी, डीएसपी ने संभाला मोर्चा

प्रदीप चौधरी के मकान में किराये पर रहता था सम्राट

जानकारी के अनुसार सम्राट महतो कुदररसाईं में प्रदीप चौधरी के किराये के मकान में रहता था. जहां चार कमरे थे और उसमें भी किराएदार रहते थे. सर्विस सेंटर के कर्मियों ने बताया कि सोमवार को दोपहर एक बजे सम्राट महतो छुट्टी लेकर खाना खाने गया था. वह शाम को काम पर नहीं आने की बात कहकर गया था. मंगलवार को सुबह सम्राट महतो का शव बरामदे में संदिग्ध अवस्था में पड़ा था. अन्य किरायेदारों ने इसकी सूचना मकान मालिक प्रदीप चौधरी को दी. चौधरी ने इसकी सूचना सरायकेला थाना, हीरो सर्विस सेंटर एवं मृतक के परिजनों को दी. सूचना पाकर सरायकेला पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और शव को सदर अस्पताल पहुंचाया.

advt

सम्राट महतो अपने माता-पिता का इकलौता बेटा था

उसकी एक बहन है जिसकी शादी चमारो में हुई है. मृतक के मामा इंद्रनाथ महतो ने बताया कि सम्राट महतो ने ऊपर दुगनी में अपने मामा घर रहकर पढ़ाई की थी. 2014 में उसके पिता रूद्र प्रताप महतो का निधन होने पर वह गांव अपनी मां के पास आया. इस दौरान पढ़ाई पूरी कर वह हीरो सर्विस सेंटर में काम करने लगा. घर आने जाने में असुविधा के कारण वह कूदरसाईं में किराये के मकान में रहता था. सम्राट महतो की किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी और ना ही कभी झगड़ा हुआ था. उसकी हत्या की गई है. उन्होंने कहा कि सम्राट के कमर पर गहरी चोट की निशान हैं जिससे स्पष्ट हो रहा है कि उसकी हत्या हुई है. इधर पुलिस अधीक्षक आनंद प्रकाश ने कहा है कि जल्द ही मौत के कारणों का पता लगा लिया जायेगा. वह स्वयं इसकी जांच पर नजर रखेंगे.

इसे भी पढ़ें – रूपा तिर्की मौत मामले की जांच कर रही सीबीआइ ने पड़ोसी सहित कई लोगों से की पूछताछ

झारखंड जर्नलिस्ट एसोसिएशन ने पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की मांग की

इधर झारखंड जर्नलिस्ट एसोसिएशन ने कहा है कि इस घटना  को लेकर उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश को पत्र लिख कर संज्ञान लेने का आग्रह किया जायेगा. प्रदेश अध्यक्ष विष्णु शंकर उपाध्याय, पूर्व अध्यक्ष सह राष्ट्रीय सचिव देवेंद्र सिंह, प्रदेश महासचिव अभय लाभ तथा राष्ट्रीय महासचिव शाहनवाज़ हसन ने मुख्यमंत्री से पूरे मामले की जांच होने तक थाना प्रभारी सहित अन्य पुलिसकर्मियों पर तत्काल कार्रवाई की मांग की है.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: