न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गगनयान परियोजना : फ्रांस में इसरो विशेषज्ञों को मिलेगी ट्रेनिंग : सीएनईएस

भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो के विशेषज्ञों को गगनयान परियोजना के लिए इस महीने से फ्रांस के तोलुज स्पेस सेंटर में प्रशिक्षण मिलना शुरू हो जाएगा.

99

 NewDelhi :  भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो के विशेषज्ञों को गगनयान परियोजना के लिए इस महीने से फ्रांस के तोलुज स्पेस सेंटर में प्रशिक्षण मिलना शुरू हो जाएगा.   फ्रांसीसी अंतरिक्ष एजेंसी सीएनईएस ने बुधवार को यह जानकारी दी.  एजेंसी ने बताया कि विशेषज्ञों को फ्रांस के कैडमॉस (सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ माइक्रोग्रैविटी ऐप्लिकेशन्स एंड स्पेस ऑपरेशन्स) एवं एमईडीईएस स्पेस क्लिनिक में भी प्रशिक्षित किया जाएगा. इस क्षेत्र में संबंधों को और मजबूत करने के लिए भारत एवं फ्रांस की अतंरिक्ष एजेंसियों ने समुद्री निगरानी के मकसद से उपग्रहों का समूह निर्मित करने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किये हैं.  इसका लक्ष्य हिंद महासागर में जहाजों को पहचानने एवं उनकी स्थिति का पता लगाना है.

इसे भी पढ़ें : #एयर स्ट्राइकः अंग्रेजी न्यूज चैनल टाइम्स नाऊ का दावाः हमले में हुआ भारी नुकसान, तसवीरें जारी कीं

Aqua Spa Salon 5/02/2020
Related Posts

#Delhi_ Violence : जांच के लिए दो एसआइटी का गठन,  आप पार्षद ताहिर हुसैन पर एफआइआर दर्ज, फैक्ट्री सील

दिल्ली हिंसा की जांच के लिए विशेष जांच टीम (एसआईटी) का गठन किया गया है.  दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के तहत दो एसआईटी का गठन किया गया है.

तोलुज स्पेस सेंटर अंतरिक्ष यात्रा से जुड़े अनुसंधान का केंद्र

इसरो के प्रमुख के सिवन एवं सीएनईएस अध्यक्ष जीन येव्स ले गाल के बीच बेंगलुरु में एक बैठक में इस क्षेत्र में सहयोग को बढ़ाने के लिए विभिन्न मुद्दों पर चर्चा के बाद इस समझौते पर हस्ताक्षर किये गये थे. सीएनईएस ने एक बयान में बताया, सीएनईएस अध्यक्ष एवं भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के प्रमुख के बीच हुई बैठक ने मानवयुक्त अंतरिक्षयान के क्षेत्र में एजेंसियों के कार्य की प्रगति की पुष्टि का अवसर दिया ताकि भविष्य के भारतीय अंतरिक्ष यात्रियों के मिशन के लिए आधार तैयार किया जा सके. बता दें कि तोलुज स्पेस सेंटर अंतरिक्ष यात्रा से जुड़े अनुसंधान एवं विकास का केंद्र है.

इसे भी पढ़ें :राफेल मामला: AG बोले- दस्तावेज हुए चोरी, SC ने कहा- बतायें क्या हुई कार्रवाई

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like