न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गडकरी ने कहा, पिछली सरकार भ्रष्‍टाचारी, हमने विकास किया, यूपी में अवसरवादी गठबंधन

दिल्‍ली के रामलीला मैदान में शुक्रवार को शुरू भाजपा के राष्‍ट्रीय अधिवेशन में आज शनिवार को अंतिम दिन केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने राजनीतिक प्रस्‍ताव पेश किया.

11

 NewDelhi : दिल्‍ली के रामलीला मैदान में शुक्रवार को शुरू भाजपा के राष्‍ट्रीय अधिवेशन में आज शनिवार को अंतिम दिन केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने राजनीतिक प्रस्‍ताव पेश किया. इस क्रम में गडकरी ने कांग्रेस पर हमलावर होते हुए कहा पिछली सरकार फैसले लेने में सक्षम नहीं थी. कहा कि भ्रष्‍टाचार पिछली सरकार की विशेषता थी. लेकिन हमारी सरकार आने के बाद मोदी जी ने बेहतर शासन, बिजनेस में सुगमता और विकास दिया. साथ ही नितिन गडकरी ने यूपी में लोकसभा चुनावों के लिए हुए सपा-बसपा के गठबंधन पर भी निशाना साधा. उन्‍होंने कहा, यूपी में अवसरवाद और विरोधाभास का गठबंधन हुआ है. पीएम के खिलाफ नफरत गठबंधन का आधार है.

बता दें कि राष्‍ट्रीय अधिवेशन में पीएम मोदी, पार्टी अध्‍यक्ष अमित शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, यूपी के सीएम योगी आदित्‍यनाथ, मध्‍य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान और वित्‍त मंत्री अरुण जेटली मौजूद है. जान लें कि आज दूसरे दिन की शुरुआत भाजपा के शीर्ष नेतृत्‍व ने स्‍वामी विवेकानंद की जयंती पर उन्‍हें श्रद्धांजति अर्पित करने के साथ की.  बता दें कि  थोड़ी देरी बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  अधिवेशन में  समापन संबोधन देंगे. पीएम भाजपा के नेताओं और कार्यकर्ताओं को मिशन 2019 के लिए जीत का मंत्र भी देंगे.

राम मंदिर के निर्माण में कांग्रेस पर रोड़ा अटकाने का आरोप

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने एक दिन पूर्व शुक्रवार को अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण में कांग्रेस पर रोड़ा अटकाने का आरोप लगाते हुए पार्टी कार्यकर्ताओं को आश्वस्त किया था कि भाजपा संविधान के तहत राम मंदिर के निर्माण के लिए कटिबद्ध है. राष्ट्रीय परिषद के अधिवेशन को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि हम 1950 से जो विचारधारा लेकर चले थे, उसी दिशा में बढ़ रहे हैं. कहा कि 2014 के चुनावी घोषणा पत्र में पार्टी ने रामजन्म भूमि पर मंदिर के निर्माण के संबंध में बात कही थी. रामलीला मैदान में देशभर से बड़ी संख्या में आये पार्टी नेता, सांसद, विधायक एवं कार्यकर्ताओं के उद्घोष के बीच शाह ने कहा कि भाजपा चाहती है जल्द से जल्द उसी स्थान पर भव्य राम मंदिर का निर्माण हो और इसमें कोई दुविधा नहीं है.

उन्होंने कहा, हम प्रयास कर रहे हैं कि सुप्रीम कोर्ट में चल रहे केस की जल्द से जल्द सुनवाई हो. लेकिन कांग्रेस इसमें भी रोड़े अटकाने का काम कर रही है. शुक्रवार को ही राष्ट्रीय परिषद की बैठक में कृषि प्रस्ताव पारित किया गया, जिसमें कृषि, किसान और कृषि क्षेत्र की मजबूती पर सरकार के कार्यों को रेखांकित किया गया. सरकार द्वारा किसान-हित में किये गये कार्यों एवं कृषि क्षेत्र को मजबूती देने की दिशा में सफलता पूर्वक आगे बढ़ने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी का अभिनंदन किया गया

2019 के लोकसभा चुनाव पानीपत के तीसरे युद्ध के समान

अध्यक्ष अमित शाह ने 2019 के लोकसभा चुनाव को दो विचारधाओं के बीच युद्ध करार देते हुए इसकी पानीपत के तीसरे युद्ध से इसकी तुलना करते हुए कहा कि 2019 की लड़ाई ऐसी है जिसका असर सदियों तक होने वाला है और इसलिए इसे जीतना जरूरी है. साथ् ही विपक्षी दलों के गठबंधन की पहल को ढकोसला करार देते हुए शाह ने कहा कि भाजपा गरीबों के कल्याण और सांस्कृतिक राष्ट्रवाद को आगे बढ़ा रही है जबकि विपक्षी दल केवल सत्ता के लिए साथ आ रहे हैं. 2019 का चुनाव वैचारिक युद्ध का चुनाव है. दो विचारधाराएं आमने सामने खड़ी हैं। 2019 का युद्ध सदियों तक असर छोड़ने वाला है. इसे जीतना बहुत महत्वपूर्ण है

इसे भी पढ़ें : यूपी में बीजेपी के खिलाफ बुआ-बबुआ आये साथ,  38-38 सीटों पर लड़ेंगे चुनाव

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: