न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गढ़वा : बारूदी सुरंग विस्फोट कर छह पुलिसकर्मियों की हत्या करने का आरोपी माओवादी एरिया कमांडर बादल गिरफ्तार

58

Garhwa/Palamu : नक्सलियों के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान में पलामू प्रमंडल के गढ़वा जिले में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है. पुलिस ने छह पुलिसकर्मियों की बारूदी सुरंग विस्फोट कर हत्या करने के आरोपी माओवादी एरिया कमांडर रामविलास नगेसिया उर्फ बादल को गिरफ्तार किया है. बादल की गिरफ्तारी भंडरिया थाना क्षेत्र के परो गांव से मंडल डैम जानेवाले पहाड़ी रास्ते से की गयी. एसपी शिवानी तिवारी ने शुक्रवार को कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर यह जानकारी दी. एसपी ने बताया कि 31 जनवरी को माओवादियों के आह्वान पर भारत बंद के दौरान माओवादी सैक सदस्य राधेश्याम यादव उर्फ विमल एवं सक्रिय सदस्य रामविलास नगेसिया अपने सहयोगी नक्सलियों के साथ मंडल डैम एवं परो के आस-पास सक्रिय देखा गया था. ये लोग भारत बंद को सफल बनाने के लिए किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे.

गढ़वा : बारूदी सुरंग विस्फोट कर छह पुलिसकर्मियों की हत्या का आरोपी माओवादी एरिया कमांडर बादल गिरफ्तार
जानकारी देतीं एसपी.

एक दर्जन से अधिक मामले हैं दर्ज

hosp3

एसपी ने बताया कि सूचना मिलते ही जिला पुलिस बल एवं सीआरपीएफ 172 बटालियन की संयुक्त टीम गठित कर छापामारी की गयी. छापामारी में उक्त स्थल से बादल को गिरफ्तार कर लिया गया. उन्होंने बताया कि माओवादी शेखर वृजिया के पुलिस मुठभेड़ में मारे जाने के बाद फिलवक्त बादल एरिया कमांडर के रूप में सक्रिय था. बादल पर 25 जून 2018 को भंडरिया थाना क्षेत्र के खपरी महुआ में अभियान में शामिल जेजे सीआरपीएफ पार्टी पर नाजायज मजमा बनाकर अंधाधुंध फायरिंग कर जानलेवा हमला करने एवं बारूदी सुरंग विस्फोट कराकर छह पुलिसकर्मियों की हत्या करने सहित गढ़वा एवं छत्तीसगढ़ में एक दर्जन से अधिक आपराधिक मामले दर्ज हैं. पूछताछ के क्रम में पुलिस के समक्ष बादल ने अपना अपराध स्वीकार करते हुए कई अन्य कांडों में संलिप्त होने का खुलासा किया है. साथ ही छत्तीसगढ़ के बलरामपुर में सड़क निर्माण में लगी जेसीबी, पोकलेन आदि मशीनों को जलाने तथा उसके दो कर्मियों का अपहरण करने की घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: