न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गढ़वा : नकली शराब फैक्टरी का उद्भे्दन, भारी मात्रा में अवैध शराब बरामद

97

Garhwa : होली में लोग जमकर शराब का सेवन करते हैं. ऐसे में इसकी बिक्री भी जमकर होती है. शराब कारोबारी ऐसे मौके की तलाश में रहते हैं और ज्यादा कमाई के चक्कर में नकली शराब बनाकर लोगों को जहर परोस देते हैं. गढ़वा जिले में कुछ इसी तरह की तैयारी की गयी थी. लेकिन पुलिस ने समय रहते शराब माफिया के मंसूबे पर पानी फेर दिया.

इसे भी पढ़ें : रामगढ़ : रिटायर्ड सीसीएल कर्मी के घर से लुटेरों ने 20 लाख की संपत्ति लूटी

गुप्त सूचना पर एसडीपीओ ने की छापामारी

दरअसल, वंशीधर (नगर उंटारी) के एसडीपीओ नीरज कुमार को रविवार की सुबह गुप्त सूचना मिली कि शहर में बड़े पैमाने पर नकली शराब बनाने की तैयारी की गयी है. उसे होली में खपाने की योजना है. सूचना पर वंशीधर नगर थाना के सामने समेत शहर के तीन जगहों पर छापामारी की गयी. इस दौरान नकली शराब बनाने की फैक्‍टरी पकड़ी गयी.

शराब बनाने के कई सामान जब्त

लगभग तीन घंटे तक तीन स्थानों पर चली छापामारी के दौरान पुलिस ने भारी मात्रा में विभिन्न ब्रांडों का पैक नकली अंग्रेजी शराब, देशी शराब का पैक पाउच, स्प्रीट, शराब पैकिंग करने की मशीन, शराब बनाने के लिये उपयोग में आने वाले कैमिकल्स, नशीले पदार्थ, अंग्रेजी शराब के स्टीकर व खाली बोतल, पाउच एवं डब्बा को बरामद किया.

इसे भी पढ़ें : हॉरर किलिंग: परिजनों ने स्नातक छात्रा की हत्या कर शव को जलाया, पिता गिरफ्तार

एक-एक कर तीन जगहों पर हुई छापामारी

एसडीपीओ नीरज कुमार ने महिला पुलिस व थाने की पुलिस के साथ सबसे पहले शहर में थाना के सामने की गली में जितेंद्र उर्फ बड़कू के घर में छापेमारी की, जहां से भारी मात्रा में नकली अंग्रेजी शराब की पैक बोतल और नकली देशी शराब का पाउच व अंग्रेजी शराब के स्टीकर व खाली बोतल, पाउच एवं डब्बा को बरामद किया. साथ ही पुलिस ने इस गोरखधंधे में संलिप्त जितेंद्र उर्फ बड़कू को भी गिरफ्तार किया.

शराब माफिया गिरफ्तार, उसकी बहन फरार

बड़कू की निशानदेही पर पुलिस ने सरेह मुहल्ला में स्थित उसके बहन के घर में भी छापामारी की. जहां से आठ ड्राम सील स्प्रीट एवं केमिकल्स व बड़कू के घर के सामने से देशी महुआ शराब बरामद की गय. बड़कू के घर में छापेमारी होने की सूचना मिलने पर उसकी बहन अपने घर में ताला बंद कर फरार हो गई. बाद में वहां पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की उपस्थिति में ताला तोड़कर घर में रखे गये आठ ड्राम सील स्प्रीट व केमिकल्स को बरामद किया. बरामद शराब की कीमत लाखों रूपये बताई जा रही है. छापेमारी के दौरान पुलिस पदाधिकारी श्रवण कुमार समेत कई पुलिस कर्मी मौजूद थे. एसडीपीओ की इस कार्रवाई से शराब माफियाओं में दहशत व्याप्त है. वहीं नकली अंग्रेजी शराब देख शराब पीने वालों के होश उड़ गये हैं.

इसे भी पढ़ें : बीजेपी और आजसू की औपचारिक घोषणा : लोकसभा चुनाव साथ लड़ेंगे

पियक्कड़ों को मिला नया जीवन 

एसडीपीओ नीरज कुमार की तत्परता के कारण यूपी, बिहार एवं उड़ीसा में हुए शराब कांड की तरह श्री बंशीधर नगर में भी इसी तरह की घटना होने से बाल-बाल बच गया. लोग अंग्रेजी शराब जानकर धड़ल्ले से जहर पी रहे थे. एसडीपीओ ने नकली अंग्रेजी शराब फैक्ट्री का खुलासा कर शराब पीने वालों की जान की रक्षा कर उन्हें नया जीवन देने का काम किया है. यहां बताते चलें कि श्री बंशीधर नगर में वर्षों से अंग्रेजी शराब की तरह नकली अंग्रेजी शराब की बिक्री धड़ल्ले से की जा रही थी. उल्लेखनीय है कि गत् वर्ष एवं गत् माह यूपी, बिहार एवं उड़ीसा में जहरीले शराब पीने के कारण कई लोगों की जान चली गई थी.

इसे भी पढ़ें :  पलामू : परमीशन, नॉमीनेशन और काउंटिंग की प्रक्रिया होगी ऑनलाइन

दस रुपये में तैयार किया जा रहा था नकली अंग्रेजी शराब

श्री बंशीधर नगर में संचालित नकली शराब फैक्ट्री में मात्र दस रूपये की लागत से विभिन्न ब्रांडों की नकली अंग्रेजी शराब तैयार किया जाता था. जबकि बाजारों में उसे आॅरिजनल शराब से भी अधिक दामों पर बेचा जाता था. शराब माफियाओं के द्वारा कम लागत में अधिक मुनाफा कमाने के चक्कर में शराब बनाने में केमिकल्स के साथ-साथ फर्नीचर पॉलिस का भी उपयोग किया जा रहा था. जिससे शराब का कलर आॅरिजनल शराब की तरह हो जाये.

सीमावर्ती इलाकों में भेजी जाती थी तैयार शराब

सूत्रों के मुताबिक श्री बंशीधर नगर में बनी नकली अंग्रेजी शराब का डिमांड झारखंड के साथ-साथ सीमावर्ती बिहार, यूपी एवं छत्तीसगढ़ में भी है. उक्त शराब की सबसे अधिक खपत झारखंड एवं यूपी में होती थी.

इसे भी पढ़ें : महागठबंधन: अबतक के दावे हो सकते हैं फेल, पलामू और चतरा सीट बनी रोड़ा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: