Main SliderNational

लोकसभा में सांसदों के बीच धक्का-मुक्की, राहुल के डंडा वाले बयान पर जबरदस्त हंगामा

New Delhi: बजट सत्र के दौरान शुक्रवार को लोकसभा में जोरदार हंगामा हुआ. मामला यहां तक बढ़ गया कि माननीय सांसदों के बीच धक्का-मुक्की तक हो गयी. जिसके बाद स्पीकर ओमप्रकाश बिड़ला को सदन की कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी.

Jharkhand Rai

दरअसल राहुल गांधी के पीएम मोदी पर दिये बयान को लेकर लोकसभा में हंगामा शुरू हुआ. एक सवाल का जवाब देते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने राहुल गांधी के डंडेमार बयान का जिक्र किया और आलोचना करने लगे. उन्हें स्पीकर ओम बिड़ला ने रोकने की कोशिश की.

इसे भी पढ़ेंःशाहीन बाग पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई टली, दिल्ली चुनाव के कारण अब 10 फरवरी को हियरिंग

क्या हुआ लोकसभा में

प्रश्नकाल के दौरान लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने राहुल गांधी को चिकित्सा महाविद्यालयों की स्थापना से संबंधित उनका पूरक प्रश्न पूछने को कहा.

Samford

हर्षवर्धन ने कहा कि राहुल गांधी के प्रश्न का उत्तर देने से पहले वह प्रधानमंत्री के खिलाफ कांग्रेस नेता की एक टिप्पणी पर बयान देना चाहेंगे जिसमें उन्होंने कहा था कि छह महीने बाद प्रधानमंत्री को युवा डंडे मारेंगे. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि वह गांधी के ‘अजीबोगरीब’ बयान की स्पष्ट शब्दों में निंदा करते हैं.

इसी दौरान कांग्रेस के सदस्य जोरदार तरीके से विरोध दर्ज कराने लगे और पार्टी सदस्य मनिकम टैगोर सत्ता पक्ष की आगे वाली पंक्ति के पास पहुंच गए. वह दूसरी पंक्ति में जवाब दे रहे हर्षवर्धन के ठीक सामने पहुंचकर आक्रामक अंदाज में उन्हें हाथ दिखाने लगे.

इस दौरान लोकसभा अध्यक्ष को स्वास्थ्य मंत्री से कहते सुना गया कि वह सवाल पर रहें. हालांकि स्वास्थ्य मंत्री एक पर्चा पढ़कर बयान देते रहे जो शोर-शराबे में स्पष्ट तरीके से ज्यादा नहीं सुना जा सका.

इस दौरान उत्तर प्रदेश से भाजपा सदस्य ब्रजभूषण शरण सिंह आगे पहुंच गये और टैगोर को पकड़कर पीछे की ओर ले गये. वह टैगोर से नाराजगी में कुछ कहते भी देखे गये. इस दौरान बीच-बचाव के लिए महिला और बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी सहित कई मंत्री और भाजपा सदस्य आगे की तरफ पहुंच गये. केरल से कांग्रेस सदस्य हिबी इडेन को भी बीच-बचाव का प्रयास करते हुए देखा गया.

सदन में हंगामे की स्थिति बन गयी और अध्यक्ष बिरला ने सदन की कार्यवाही को स्थगित कर दिया.

इसे भी पढ़ेंः#CoronaVirus का उद्योग जगत पर असर, बंद हुआ दुनिया का सबसे बड़ा कार कारखाना

कांग्रेसी सांसद कर रहे गुंडागर्दी- बीजेपी

बीजेपी ने कांग्रेस सांसदों के इस व्यवहार को गुंडागर्दी करार दिया साथ ही आरोप लगाया कि राहुल गांधी के इशारे पर केंद्र हर्षवर्धन के साथ हाथापायी की कोशिश की गई.

संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने संसद परिसर में मीडिया से कहा कि सदन में कांग्रेसी सांसदों का रवैया गुंडागर्दी का था. और, ‘राहुल गांधी के उकसाने पर वे डंडे का रास्ता अपना रहे थे. ये घटना कांग्रेस की निराशा और गुंडागर्दी को दिखाता है.’

वहीं, भाजपा सांसद जगदंबिका पाल ने कहा कि कांग्रेस सांसद का रवैया लोकतंत्र के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने कहा, ‘केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन राहुल गांधी का बयान पढ़ रहे थे,इस दौरान कांग्रेस सांसद मनिकम टैगोर उनकी तरफ बढ़े. यह देश के लोकतंत्र के लिए दुर्भाग्यपूर्ण दिन है.’

इसे भी पढ़ेंःमहबूबा-उमर के खिलाफ PSA के तहत मामला दर्ज, चिदंबरम ने बताया लोकतंत्र का सबसे घटिया कदम

राहुल गांधी ने किया बचाव

कांग्रेस सांसद और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सांसद मनिकम टैगोर का बचाव किया है. उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी के सांसद ने किसी पर हमला नहीं किया. वे वेल में जरूर गए. आप कैमरा देख सकते हैं. लेकिन उनके ऊपर उल्टा हमला हुआ. राहुल ने केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन पर निशाना साधते हुए कहा कि वे मेरे सवाल का जवाब देने की बजाय दूसरी बात कर रहे थे.

डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि मुझे आश्चर्य है कि राहुल गांधी के पिता खुद देश के प्रधानमंत्री थे तो वो ऐसी टिप्पणी कैसे कर सकते हैं, लोग पीएम को डंडों से पीटेंगे और देश से बाहर फेंक देंगे.

बाधित रही कार्यवाही

हालांकि, एक बजे सदन की कार्यवाही दोबारा शुरू होने के बाद भी तस्वीर नहीं बदली. राहुल गांधी कुछ कहने के लिए अपने स्थान पर खड़े हुए लेकिन भाजपा सदस्यों ने इसका विरोध करना शुरू कर दिया. इस पर दोनों पक्षों में नोकझोंक शुरू हो गयी और हंगामे के बीच पीठासीन सभापति किरीट सोलंकी ने कार्यवाही स्थगित कर दी.

गौरतलब है कि दिल्ली की एक चुनावी सभा में बुधवार को गांधी ने कहा था कि मौजूदा समय में जो हालात हैं उसे देखकर कहा जा सकता है कि छह महीने में प्रधानमंत्री को युवा डंडे मारेंगे.

राहुल के इस बयान पर गुरूवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी उन्हें आड़े हाथ लेते हुए कहा था कि वह सूर्य नमस्कारों की संख्या बढ़ा देंगे ताकि उनकी पीठ डंडों के वार सह सके.

इसे भी पढ़ेंःईमामी समूह बेचेगा अपना सीमेंट कारोबार, 5,500 करोड़ में हुआ सौदा

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: