न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

स्थापना दिवस पर पूर्ण बहुमतवाली सरकार की घोषणाओं का हाल : जानिये क्या है हकीकत

926

Ranchi : झारखंड राज्य के गठन के 18 साल पूरे होने को हैं. राज्य सरकार चार दिन बाद 15 नवंबर को स्थापना दिवस धूमधाम से मनाने की तैयारी भी कर चुकी है. इस दौरान सरकार राज्य के विकास से संबंधित घोषणाएं भी करेगी. राज्य गठन के बाद पहली बार 2014 में पूर्ण बहुमत की सरकार बनी. सरकार बनने के बाद रघुवर दास और उनकी सरकार ने जो घोषणाएं की हैं, हम आपको उनकी जमीनी हकीकत से रू-ब-रू करा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- एजी कार्यालय के ऑडिटर पर नाबालिग से छेड़छाड़ करने और दुष्कर्म की धमकी देने का मामला दर्ज

15 नवंबर 2015 को की गयीं घोषणाएं

घोषणा 1 : सरकार ने 15 मोबाइल एप्स लॉन्च किये

स्थिति : राज्य में करीब दो करोड़ से अधिक स्मार्ट फोन यूजर्स हैं, लेकिन सरकार द्वारा लॉन्च किये गये इन 15 एप्स में से कोई भी एप एक लाख से अधिक डाउनलोड नहीं किया गया है. सरकार ने कभी भी इन एप्स को प्रोमोट करने की दिशा में सही तरीके से प्रचार-प्रसार नहीं किया. हालांकि, ये सभी मोबाइल एप्स सरकार की वेबसाइट पर मौजूद हैं.

घोषणा 2 :  विधि पोर्टल और रांची नगर निगम पोर्टल

स्थिति : रांची नगर निगम पोर्टल की स्थिति यह है कि नगर निगम में काम करनेवाले कई अधिकारियों और कर्मचारियों को भी इस पोर्टल के बारे में जानकारी तक नहीं है. इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस पोर्टल का कितना इस्तेमाल नगर निगम के दायरे में आनेवाली जनता कर रही होगी. यही स्थित कमोबेश विधि पोर्टल की भी है.

घोषणा 3 :  दुधारू गाय वितरण योजना

स्थिति : योजना चालू हुई, पर चालू होते ही यह विवादों में आ गयी. इसके वितरण में अधिकारियों ने पशु व्यापारियों और बिचौलियों के साथ मिलकर कहीं बीमार गायों का वितरण कर दिया, तो कहीं एक ही गाय को दो-दो स्थानों पर वितरित दिखा दिया गया. सरकार ने दावा किया था कि अधिक से अधिक दूध देनेवाली गायों  का वितरण किया जायेगा, पर इसके उलट बीमार गायों का वितरण कर दिया गया. गायों के बीमार हो जाने और मर जाने के कारण किसानों के सामने कर्ज चुकाने को लेकर बड़ी समस्या उत्पन्न हो गयी है. वहीं, दुधारू गाय कई गांवों और ब्लॉक तक पहुंची ही नहीं, पर पेपर में इसे वितरित बता दिया गया.

घोषणा 4 : बिचौलिये की भूमिका समाप्त होगी

स्थिति : मुख्यमंत्री ने 2015 में झारखंड स्थापना दिवस के दौरान दावा किया था कि बिचौलिये की भूमिका समाप्त कर दी जायेगी, पर उसी साल सरकार की दुधारू गाय वितरण योजना में ही कई बिचौलियों की अहम भूमिका के कारण योजना में भारी गड़बड़ी का सामने आयी थी. तीन साल पूरे हो जाने के बाद भी बिचौलियों की भूमिका को समाप्त नहीं किया जा सका है.

घोषणा 5 : टेली मेडिसिन योजना

स्थिति : टेली मेडिसिन योजना राज्य में पूरी तरह से फलॉप है. टेली मेडिसिन योजना के अंतर्गत अब हेल्प लाइन नंबर 104 पर मरीज संपर्क कर अपनी बीमारी बताते हैं और कॉल सेंटर में बैठे इम्प्लॉई आपको परेशानी से उबरने के लिए दवा बताते हैं. पर, जिस टेली मेडिसिन योजना के बारे में सीएम रघुवर दास ने घोषणा की थी, वह कहीं नहीं दिखती. हेल्प लाइन नंबर 104 सेवा हेमंत सोरेन के कार्यकाल में चालू की गयी थी. इस सेवा का भी सही से प्रचार-प्रसार नहीं होने के कारण ग्रामीण इलाकों के लोग लाभ नहीं ले पाते हैं.

घोषणा 6 : अगले वित्तीय वर्ष में 80 हजार बहाली पूरी करूंगा

स्थिति : घोषणा के हिसाब से सरकार को 80 हजार बहाली साल 2016 में पूरी कर लेनी चाहिए थी. लेकिन, रघुवर सरकार अपने अब तक के कार्यकाल में 80 हजार सरकारी नौकरी नहीं दे सकी है. जेपीएससी की परीक्षा इनके कार्यकाल में अब तक नहीं हो पायी है.

इसे भी पढ़ें- एनडीसी ने पूर्व सीएम बाबूलाल की सुरक्षा को कैसे खतरे में डाला, जिला प्रशासन की छवि हुई खराब

15 नवंबर 2016 को की गयीं घोषणाएं

घोषणा : राज्य सरकार 25 ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर खोलेगी

स्थिति : इस योजना के अंतर्गत भारी वाहन चलाने का प्रशिक्षण चालकों को दिया जाना था, जिसके बाद ही उन्हें हेवी वाहन चलाने का लाइसेंस निर्गत होना था. पर, अभी तक धनबाद और जमशेदपुर का ही ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर सही तरीके से चालू हो पाया है.

15 नवंबर 2017 को की गयीं घोषणाएं

घोषणा 1 : 15 नवंबर 2017 को मुख्यमंत्री ने पूरे 3455.89 करोड़ की सात योजनाओं का शिलान्यास किया था.
घोषणा 2 : 464.90 करोड़ की लागत से राजभवन से बिरसा चौक तक स्मार्ट सड़क का निर्माण

स्थिति : अब तक इस दिशा में कोई कार्य नहीं हो सका है

घोषणा 3 : 89.83 करोड़ की लागत से एयरपोर्ट से बिरसा चौक तक बनेगी स्मार्ट सड़क

स्थिति : स्मार्ट सड़क का निर्माण की शुरुआत अब तक नहीं हुई है.

घोषणा 4 : 294.64 करोड़ की लागत से बनेगा हरमू फ्लाईओवर

स्थिति : हरमू फ्लाईओवर का काम भी अब तक चालू नहीं.

घोषणा 5 : 181.12 करोड़ की लागत से कांटाटोली फ्लाईओवर का होगा निर्माण

स्थिति : काम प्रगति पर है.

घोषणा 6 : 1500 करोड़ की लागत वाली जोहार योजना

स्थिति : इस योजना का कुछ पार्ट का काम हुआ है.

घोषणा 7 : 636 करोड़ का स्वास्थ्य बीमा

स्थिति : इस योजना का लाभ लोगों को मिलने लगा है.

घोषणा 8 : 108 एम्बुलेंस

स्थिति : रघुवर सरकार की इस योजना का लाभ लोगों को मिल रहा है. 108 एम्बुलेंस को सड़कों पर देखा जा सकता है. हर एक लाख की आबादी पर एक एम्बुलेंस दी गयी है.

स्थापना दिवस पर पूर्ण बहुमतवाली सरकार की घोषणाओं का हाल : जानिये क्या है हकीकत
फाइल फोटो.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: