Khas-KhabarWorld

कट्टरवाद से उदारता की ओर UAE, पहली बार नॉन मुस्लिम कपल को दिया गया सिविल मैरिज लाइसेंस

New Delhi : संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में अब हालात बदलने लगे हैं. यहां पहली बार ऐसा हुआ है किसी गैर मुस्लिम जोड़े के लिए कानूनी विवाह लाइसेंस जारी किया गया है. यह कदम ऐसे वक्त में उठाया गया है जब यूएई अपने क्षेत्रीय प्रतिस्पर्धियों पर अपनी बढ़त बनाए रखना चाहता है. आपको ये भी जानना जरुरी है कि यूएई की कुल आबादी का 90 प्रतिशत विदेशी हैं. ऐसे में यह देश खुद को कट्टरवादी छवि से हटाकर उदार रूप में पेश करने की कोशिश कर रहा है.

इसे भी पढ़ें : IPS प्रिया दुबे के पति के घर ED की रेड, 1.46 करोड़ की प्रोपर्टी अटैच

कनाडा के नॉन मुस्लिम कपल ने रचाई शादी

यूएई में कनाडा के युगल ने अबू धाबी में नए कानून के तहत गैर-मुसलमानों की तरह शादी रचाई. रिपोर्ट में कहा गया है कि इस कदम से दुनिया भर के स्किल्स और एक्सपर्टीज वाले लोगों के लिए टॉप डेस्टिनेशन बनेगा. इससे पहले यूएई के अबूधाबी में गैर मुस्लिमों को नए सिविल कानून के मुताबिक शादी करने, तलाक देने और बच्चे की साझा देखभाल हासिल करने का अधिकार दिया गया था.

Sanjeevani

गैर मुस्लिमों के लिए अलग से अदालत

यूएई के सातों अमीरात संघों के अध्यक्ष शेख खलीफा बिन जायद अल-नहयान के आदेश में कहा गया है कि इसमें सिविल मैरिज, तलाक, गुजारा भत्ता, बच्चों की साझा देखभाल, पितृत्व का सबूत और उत्तराधिकार शामिल हैं. अब तक यहां शादी व तलाक पर बने कानून शरिया आधारित थे. गैर-मुस्लिमों के विवादों हल करने के लिए अब यहां नई अदालत का गठन किया जाएगा, जो अंग्रेजी और अरबी में काम करेगी.

प्रतिस्पर्धा के दौर में उदार बनने की कोशिश

बता दें कि मिडिल ईस्ट में इस्लाम, ईसाई और यहूदी धर्म के मानने वालों का कानूनी विवाह असामान्य है. आमतौर पर इन तीनों एकेश्वरवादी मान्यताओं में से एक के धार्मिक अधिकार के तहत विवाह का कार्आयक्योरम जित किया जाता है. ट्यूनीशिया और अल्जीरिया जैसे देशों में नागरिक विवाह की इजाजत है. माना जा रहा है कि मिडिल ईस्ट के देशों में बन रहे बिजनेस सेक्टर को देखते हुए UAE ने बढ़त हासिल करने के लिए ऐसा कदम उठाया है.

विदेशी निवेश के लिए बढ़ा रहा आकर्षण

UAE ने अपनी अर्थव्यवस्था को विदेशी निवेश और प्रतिभा के लिए अधिक आकर्षक बनाने के लिए पिछले एक साल में कई उपाय किए हैं. इसमें लंबी अवधि के वीजा की शुरुआत भी शामिल है. इसने शादी से पहले लिव-इन में रहने, शराब और व्यक्तिगत स्थिति कानूनों के संबंध में कानूनों को भी संशोधित किया है.

वेस्टर्न कल्चर भी मंजूर

UAE ने दिसंबर महीने की शुरुआत में घोषणा की थी कि सभी सरकारी संस्थाएं पश्चिमी शैली का वर्किंग स्टाइल अपनाएंगी. इस घोषणा के बाद UAE में अब शुक्रवार दोपहर तक ऑफिस और शनिवार और रविवार को छुट्टी रहेगी.

व्यापार बढ़ाने में लगा यूएई

UAE के साथ ही सऊदी अरब भी कई सेक्टर में अपने पांव फैलाने की कोशिश में जुटा हुआ है. सऊदी अरब अपनी राजधानी रियाद को एक इंटरनेशनल सेंटर में बदलने की कोशिश में जुटा हुआ है. सऊदी अरब ने महिलाओं के ड्राइविंग पर लगे प्रतिबंध को हटा लिया है और मुस्लिम ड्रेस कोड में ढील दी है. गैर-मुस्लिमों के लिए यह सिविल कानून अपनी तरह का पहला है जो अंतरराष्ट्रीय मान्यताओं पर आधारित है.

Related Articles

Back to top button