न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दिसंबर से अब तक 819 किसानों से खरीदा गया धान, 476 को ही किया गया भुगतान

71
  • लगभग तीन करोड़ 22 लाख हुआ भुगतान
  • किसानों को नहीं मिल रहा 150 रुपये प्रति क्विंटल बोनस
  • जिला आपूर्ति पदाधिकारी बोले- नहीं मिला है बोनस देने का लिखित आदेश

Ranchi : जिले में किसानों से धान खरीद की प्रक्रिया दो दिसंबर से ही आरंभ हो चुकी है. इसके लिए 18 प्रखंडों में धान खरीद केंद्र बनाये गये हैं. जिला प्रशासन की ओर से जारी की गयी रिपोर्ट के अनुसार अब तक 819 किसानों से लगभग पांच करोड़ 68 लाख रुपये की लागत से 32506 क्विंटल धान की खरीदारी की जा चुकी है. सबसे ज्यादा चान्हो प्रखंड स्थित संस लैंप्स केंद्र से धान की खरीदारी हुई है. इस केंद्र से लगभग 5198 क्विंटल धान खरीदा जा चुका है. इस केंद्र में 93 किसानों ने अपना धान बेचा. वहीं, इटकी प्रखंड स्थित कुरगी केंद्र पर सिर्फ 13 किसान ही पहुंच सके हैं. अन्य प्रखंडों से भी धान की खरीदारी जारी है. प्रशासन द्वारा जारी की गयी  रिपोर्ट के अनुसार अब तक 476 किसानों को धान के मूल्य दिये जा चुके हैं. 476 किसानों को लगभग तीन करोड़ 22 लाख 68 हजार रुपये का भुगतान किया गया है. इन केंद्रों में किसानों से 1750 रुपये प्रति क्विंटल की दर से धान खरीदा जा रहा है. जिन किसानों से धान की खरीदारी की जा रही है, उनके खाते में 15 दिनों के अंदर राशि जमा कराने के निर्देश दिये गये हैं. इसमें किसी तरह का हेर-फेर न हो, इसके लिए सभी बीडीओ को बिचौलियों पर भी नजर रखने को कहा गया है.

किसानों को बोनस देने को लेकर कोई लिखित आदेश नहीं मिला है : जिला आपूर्ति पदाधिकारी

hosp3

जिला आपूर्ति पदाधिकारी नरेंद्र प्रसाद गुप्ता ने कहा, “किसानों से धान खरीदने को लेकर गंभीर हूं. इस दिशा में काफी तेजी के साथ कार्य किया जा रहा है. बीते 50 दिनों से लगातार किसानों से धान खरीदने का काम जारी है.” गुप्ता ने बताया कि सभी किसानों को दो-दो बार एसएमएस भी किया गया है, ताकि सभी किसान अपना धान बेच सकें. उन्होंने बताया कि 18 प्रखंडों में कुल 8046 किसान हैं, जिनसे धान क्रय किये जाने हैं. अब तक 819 किसानों से धान क्रय किया जा चुका है. बोनस के संबंध में उन्होंने बताया कि सरकार की ओर से किसानों को 150 रुपये प्रति क्विंटल बोनस देने का निर्णय लिया गया है, लेकिन मेरे पास अभी कोई लिखित आदेश नहीं आया है. आदेश आते ही किसानों को बोनस देने का भी काम आरंभ हो जायेगा. जिन किसानों ने धान बेच दिया है, उन्हें भी बोनस दिया जायेगा.

किस प्रखंड से कितने किसानों ने बेचा धान

प्रखंडकितना धानकिसान
संस लैंप्स, चान्हो5386 क्विंटल93
नामकुम लैंप्स, नामकुम3454 क्विंटल63
बिरगांव लैंप्स, तमाड़3170 क्विंटल69
बुंडू2454 क्विंटल49
सिल्ली2847 क्विंटल85
राहे2062 क्विंटल38
मांडर, ब्राम्बे1697 क्विंटल52
नगड़ी1919 क्विंटल46
ईचागढ़, ओरमांझी1779 क्विंटल62
ककारिया लापुंग1432 क्विंटल32
हरीन सोनाहाट1663 क्विंटल44
कांके1302 क्विंटल37
बेड़ो लैंप्स, बेड़ो706 क्विंटल21
कुरगी, इटकी460 क्विंटल13
गिंजो ठाकुर, बुढ़मू536 क्विंटल20
एफएससीएस, रातू636 क्विंटल32
बुकबुका, खलारी588 क्विंटल33
सलहन, अनगड़ा409 क्विंटल30

इसे भी पढ़ें- थर्ड और फोर्थ ग्रेड की सरकारी नौकरियों में अब जिला स्तर पर सिर्फ स्थानीय लोगों की ही होगी नियुक्ति

इसे भी पढ़ें- अब होमगार्ड वेलफेयर एसोसिएशन हुआ रघुवर सरकार से नाराज, 21 जनवरी से करेगा आमरण अनशन

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: