न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भारत की सख्ती से घबराये पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र से लगायी गुहार

पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने यूएन महासचिव को चिट्ठी लिख कहा- भारत को रोकें

eidbanner
884

New Delhi: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में 40 जवानों की शहादत से देश में उबाल है. वहीं आतंकियों के पनाहगार पाकिस्तान पर भारत ने चौतरफा शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. पुलवामा हमले के बाद से ही भारत ने पाकिस्तान पर अंतरराष्ट्रीय दबाव बनाना शुरू कर दिया है, जिससे वह बौखला गया है. भारत की कार्रवाई से घबराया पाकिस्तान अब संयुक्त राष्ट्र की शरण में चला गया है. पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने UN महासचिव एंतोनियो गुतेरेस को चिट्ठी लिख भारत की शिकायत की है.

भारत को रोकें- पाकिस्तान

महमूद कुरैशी ने अपनी चिट्ठी में कहा है कि पुलवामा हमले के बाद से ही भारत सरकार ने तनाव बढ़ाना शुरू कर दिया है. पाकिस्तान के ही एक न्यूज चैनल से बात करते हुए उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत में जल्द होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले इस प्रकार के मुद्दे को उठा रहे हैं.

पड़ोसी देश के विदेश मंत्री ने बताया कि भारत इलाके में तनाव को बढ़ाना चाहता है और जिससे काफी नुकसान हो सकता है. साथ ही कहा कि पुलवामा आतंकी हमले से कई दिनों पहले ही उनके कार्यालय ने बताया था कि चुनाव से पहले हिंदू वोट हथियाने के लिए इस प्रकार के हथकंडे अपनाए जा सकते हैं. जिसमें पाकिस्तान के खिलाफ भड़काया जा सके.

महमूद कुरैशी ने कहा कि अगर पुलवामा हमले में पाकिस्तान का कोई संबंध है, तो भारत को इसके सबूत देने चाहिए. हम अपनी निष्पक्ष जांच कराएंगे. उन्होंने लिखा कि UN को एक्शन लेते हुए भारत को कहना चाहिए कि ऐसे तनाव को रोका जाए. हालांकि, ऐसा पहली बार नहीं है जब जम्मू-कश्मीर के मसले पर पाकिस्तान यूएन में गया हो, इससे पहले भी वह कई बार दुनिया के सामने इस मुद्दे को उठाता रहा है. लेकिन हर बार उसे मुंह की खानी पड़ी है.

Related Posts

14 राज्‍यों के 49 विधायक जीत कर लोकसभा पहुंचे, कराने होंगे उपचुनाव

लोकसभा चुनाव में 14 राज्‍यों के 49 विधायक जीत कर लोकसभा पहुंचे हैं. 49 विधायकों, दो विधान परिषद सदस्‍य और चार राज्‍य सभा सांसदों ने जीत हासिल की है.

उल्लेखनीय है कि 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी आत्मघाती हमले में सुरक्षाबलों के 40 जवान शहीद हो गए थे. जैश-ए-मोहम्मद ने इस हमले की जिम्मेवारी ली थी, जो पाकिस्तान में बैठकर आतंक फैलाता है. इस हमले के बाद से ही जहां पूरे देश में पाकिस्तान के खिलाफ रोष है, वहीं भारत ने पाकिस्तान पर कार्रवाई शुरू कर दी है.

भारत का सख्त एक्शन

आतंकी हमले के बाद से भारत पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अलग-थलग करने पर लगा हुआ है. कार्रवाई के तहत सबसे पहले भारत ने पाकिस्तान को दिया हुआ ‘मोस्ट फेवर्ड नेशन’ का दर्जा वापस लिया, उसके बाद अंतराष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान को लेकर अन्य देशों से बात करनी शुरू कर दी. इधर हुर्रियत नेताओं की सुरक्षा भी वापस ले ली गई. साथ ही कश्मीर में बैठे पाकिस्तान परस्त आतंकियों के खिलाफ भारतीय सुरक्षाबलों ने एक्शन शुरू कर दिया है.

इसे भी पढ़ेंः पुलवामा अटैकः पाकिस्तानी नागरिकों को 48 घंटे के भीतर बीकानेर छोड़ने का आदेश

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: