JharkhandRamgarh

अपराध की योजना बनाते चार बदमाश गिरफ्तार, कई हथियार बरामद

RAMGARH: रामगढ पुलिस अधीक्षक कार्यालय सभागार में मंगलवार को पुलिस अधीक्षक प्रभात कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपहरणकर्ता गिरोह के सदस्यों के पकड़े जाने से संबंधित जानकारी दी. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि 21 जून को रात्रि में प्राप्त गुप्त सूचना के आलोक में पुलिस उपाधीक्षक मुख्यालय संजीव कुमार मिश्रा के नेतृत्व में टीम गठित कर पुलिस पदाधिकारियों और सशस्त्र बलों के सहयोग से त्वरित कार्रवाई करते हुए गोला थाना अंतर्गत बंदा ग्राम के समीप भेड़ा नदी के किनारे श्मशान घाट के बगल में लूट, डकैती और अपहरण की योजना बनाते चार अपराधियों को आग्नेयास्त्र के साथ गिरफ्तार किया गया है. जबकि 2 अपराध कर में अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे. जिनकी तलाश के लिए पुलिस के द्वारा लगातार छापेमारी की जा रही है.

इसे भी पढें :रांची में शादी का झांसा देकर गैंगरेप, पुलिस के पास मामला पहुंचते ही आरोपी फरार

इस संबंध में गोला थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है. उन्होंने बताया गिरफ्तार सभी अपराधी एक संगठित अपहरण गिरोह चलाते हैं जो सरकार के विकास योजनाओं का कार्य करने वाले कंपनी या ठेकेदार के लोगों का अपहरण कर फिरौती की रकम वसूलते थे. इस गिरोह के द्वारा अभी तक तीन घटनाओं को अंजाम दिया जा चुका है. लगभग 1 महीने पहले ही गोला थाना क्षेत्र अंतर्गत गेल कंपनी के सुरक्षाकर्मी के अपहरण एवं बोकारो जिला अंतर्गत महुआटांड़ थाना क्षेत्र में कार्यरत रजरप्पा पुल निर्माण में लगे नाइट घाट के अपहरण की घटना में इसी अपराधिक गिरोह के अपराधी शामिल थे.

इसे भी पढें :धनबाद में सड़क-जाम से लोग त्रस्त, ट्रैफिक पुलिस “आपदा को अवसर” बनाने में व्यस्त

advt

पुलिस अधीक्षक ने बताया सभी अपराधी एक ही गांव के रहने वाले थे और लगभग 2 सालों से अपराधिक घटनाओं को अंजाम दे रहे थे. जंगल में लोगों का अपहरण कर रखने के समय सभी अपराधी ग्रामीण वेशभूषा में जंगल में रहते थे जिससे पुलिस को आसानी से चकमा दे सकें. पुलिस अधीक्षक ने कहा इन अपराधियों का पकड़ा जाना रामगढ़ पुलिस के लिए एक बड़ी उपलब्धि है क्योंकि पुलिस के पास इन घटनाओं के उद्भेदन में किसी भी प्रकार का टेक्निकल साक्ष्य नहीं था.

पुलिस अधीक्षक प्रभात कुमार ने बताया अपराधियों के पास से फिरौती के रूप में वसूले गए एक लाख 48 हजार रुपए भी बरामद किए गए हैं. उन्होंने छापेमारी दल में शामिल डीएसपी मुख्यालय संजीव कुमार मिश्रा, रजरप्पा थाना प्रभारी विपिन कुमार सहित अन्य पुलिस पदाधिकारियों व जवानों को अपराधियों के सफलतापूर्वक गिरफ्तारी के लिए बधाई दी.

इसे भी पढ़ें :पेट्रोल पंप डकैती कांड : पंद्रह दिन बीत जाने के बाद भी डकैतों तक नहीं पहुंच पाई पुलिस

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: