JharkhandLead NewsRanchi

पूर्व सांसद फुरकान अंसारी का दावाः RPN के जाने के बाद अब झारखंड में और मजबूती से उभरेगी कांग्रेस

Ranchi : कांग्रेस सरकार में पूर्व केंद्रीय मंत्री सह झारखंड कांग्रेस प्रभारी रहे आरपीएन सिंह मंगलवार को भाजपा में शामिल हो गये. गोड्डा के पूर्व सांसद और पुराने कांग्रेसी नेता फुरकान अंसारी ने इस घटना को प्रदेश कांग्रेस के लिये लाभकारी बताया है. कहा कि वे शुरू से मानते आये हैं कि आरपीएन भाजपा का घुसपैठिया है. वह राज्य में कांग्रेस की पूरी टीम को बर्बाद कर देगा. उनकी बातों पर आलाकमान ने समय रहते ध्यान नहीं दिया. आज इसने अपना चेहरा दिखा ही दिया. आरपीएन सिंह जैसे लोग ही पार्टी को अंदर से खोखला कर रहे थे.

टिकट से लेकर पद पाने के लिए बोली लगती थी. खुलेआम वसूली का खेल चलता था. ऐसी संस्कृति को बढ़ावा देने वाले लोग के चले जाने से आज कांग्रेसी राहत महसूस कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें:आरपीएन सिंह के इस्तीफे और भाजपा में शामिल होने से झारखंड की सत्ता के समीकरण पर पड़ सकता है प्रभाव

बगैर योग्यता के बांटे पद

फुरकान के मुताबिक आरपीएन ने पूरे झारखंड में कांग्रेस के संगठन को अस्त-व्यस्त कर दिया था. जिसने पैसा पहुंचाया, उसकी योग्यता को जांचे परखे बिना ही पद दे दिया. वैसे लोग जिन्होंने अपनी सारा जीवन कांग्रेस की सेवा में लगा दिया, उसे एक साजिश के तहत किनारे कर दिया.

ऐसा मकड़जाल बुनकर रखा था कि आलाकमान तक सही बात भी नहीं पहुंच पाती थी. इसका नतीजा यह हुआ कि कांग्रेस पार्टी दिन प्रतिदिन कमजोर होती चली गयी.

अंसारी ने कहा कि समय बहुत नहीं निकला है. अभी भी सुधरने का समय है. सभी कार्यकर्ता एकजुट होकर फील्ड में मेहनत करें. एक बार फिर से कांग्रेस अधिक मजबूती से उभरेगी. काग्रेस के पुराने दिन वापस लौटेंगे.

इसे भी पढ़ें:राजेंद्र नगर टर्मिनल पर परीक्षार्थियों पर हुए लाठीचार्ज के विरोध में अब पटना के सड़कों पर उतरे छात्र

झारखंड में यह एक बड़ी पार्टी बन कर उभरेगी. आलाकमान को चाहिये कि वह आरपीएन सिंह के कार्यों की समीक्षा करें. आवश्यक बदलाव करे.

संगठन में काम करने वाले योग्य लोगों को लाया जाना चाहिए. सिर्फ कमरे में बैठकर रणनीति बनाने वाले लोग कांग्रेस का भला नहीं कर सकते हैं.

इसे भी पढ़ें:सातवीं से दसवीं सिविल सेवा मुख्य परीक्षा स्थगित, जेपीएससी ने जारी की सूचना

Advt

Related Articles

Back to top button