न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पूर्व मंत्री के पति ने किया सरेंडर, राजद का बड़ा आरोप ‘सीएम हाउस में छिपी हैं मंजू वर्मा’

14 दिनों की न्यायिक हिरासत में चंद्रशेखर वर्मा

63

Patna: बिहार की पूर्व मंत्री के पति और मुजफ्फरपुर बालिक केस में मुख्य आरोपी के करीबी चंद्रशेखर वर्मा ने सोमवार को सरेंडर कर दिया. सोमवर की सुबह चंद्रशेखर वर्मा ने बेगूसराय के मंझौल कोर्ट में सरेंडर किया. चंद्रशेखर वर्मा सुबह 11 बजे अपने समर्थकों के साथ कोर्ट पहुंचे और समर्पण किया, जिसके बाद कोर्ट ने चंद्रशेखर वर्मा को न्यायिक हिरासत में 6 नबंवर तक जेल भेजा दिया. इधर राजद ने एक ऐसा बयान दिया है, जिससे प्रदेश की राजनीति में भूचाल आ सकता है.

इसे भी पढ़ें : नाबालिग दे रहे हैं लूट, हत्या, दुष्कर्म जैसी घटनाओं को अंजाम, तीन सालों में बढ़े बाल कैदी

Trade Friends

ज्ञात हो कि मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड में नाम आने के बाद मंजू वर्मा के आवास पर मारे गए छापे में 50 अवैध कारतूस बरामद किए गए थे. इस मामले में पूर्व मंत्री मंजू वर्मा और उनके पति को नामजद किया गया था. वही ऊपरी अदालत से अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने के बाद से पुलिस और सीबीआई चंद्रशेखर वर्मा की लगातार तलाश कर रही थी.

इसे भी पढ़ेंःरांची के इलाहाबाद बैंक से संयुक्त निदेशक राजीव सिंह के भाई ने फरजी दस्तावेज पर लिया कर्ज

सीएम हाउस में छिपीं हैं मंजू वर्मा- राजद

Related Posts

पांच प्रतिशत अतिरिक्त महंगाई भत्ता के साथ अक्टूबर महीने का वेतन देगी बिहार सरकार 

अतिरिक्त महंगाई भत्ता से राज्य सरकार के खजाने पर 1,048 करोड़ रुपये का बोझ आने का अनुमान

WH MART 1
भाई वीरेंद्र, राजद प्रवक्ता

पटना में एक न्यूज चैनल को दिये इंटरव्यू में राजद प्रवक्ता भाई वीरेंद्र ने बड़ा आरोप लगाया है. जेडीयू पर गंभीर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा है कि बिहार सरकार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा मुख्यमंत्री आवास एक अणे मार्ग में छिपी हैं. राजद नेता ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री आवास में मंजू वर्मा और उनके पति ने शरण ले रखी थी. और आरजेडी के दबाव के बाद उन्होंने सरेंडर किया है. उन्होंने कहा कि पुलिस की अगर हिम्मत है तो वहां छापेमारी करे. मंजू वर्मा की गिरफ्तारी वहां से हो जाएगी.

इसे भी पढ़ें: न्यूज विंग खास : झारखंड कैडर के 50-59 साल पार हैं 67 आईएएस, 27 साल की किरण सत्यार्थी हैं सबसे यंग IAS

उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के घर से बरामद कारतूस मामले में वो फरार चल रहे थे. मंजू वर्मा के पति चन्द्रशेखर वर्मा की गिरफ्तारी नहीं होने पर पुलिस उनके घर की कुर्की जब्ती का आदेश दिया था. वही सुप्रीम कोर्ट ने भी बालिका गृह केस में मुख्य आरोपी के करीबी के तौर पर सामने आये चंद्रशेखर वर्मा की गिरफ्तारी नहीं होने पर बिहार पुलिस और सीबीआई पर सवाल उठाये थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like