Main SliderRanchi

पूर्व मंत्री अमर बाउरी ने 19 जूनियर CI को प्रमोशन देकर बनाया CO-ASO, अब विभाग हेमंत के पास क्या होगी कार्रवाई?

Ad
advt

Ranchi: झारखंड में विधानसभा चुनाव के वक्त राजस्व विभाग में सीआइ को प्रमोशन दिया गया. अमर कुमार बाउरी उस वक्त विभाग के मंत्री थे और अब खुद सीएम हेमंत सोरेन के पास राज्स्व विभाग है. सवाल उठ रहे हैं कि क्या हेमंत सोरेन इस मामले को लेकर कोई कार्रवाई करेंगे. यह प्रमोशन विभाग के लिए काफी विवादित हो गया है.

इसे भी पढ़ें – आरक्षण की वजह से 6ठी जेपीएससी में हुआ विवाद, उसी पेंच में फंसी 7वीं, 8वीं और 9वीं जेपीएससी परीक्षा

advt

विरोध में है सीआइ का एक बड़ा तबका

सूबे में सीआइ (अंचल निरीक्षक) का बड़ा तबका इसका विरोध कर रहा है. आरोप लगाये जा रहे हैं कि जूनियर को हैंडपिक कर प्रमोशन देकर सीओ (अंचल अधिकारी) और एएसओ (सहायक बंदोबस्त पदाधिकारी) बना दिया गया है. जिन जूनियर को प्रमोशन देकर सीनियर बनाया है, वो तो खुश हैं.

लेकिन जिन सीनियर को प्रमोशन ना देकर जूनियर बना दिया गया है. उन्होंने कुछ ना होता देख अब कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. नाम ना छापने की सूरत पर कुछ सीआइ ने कहा है कि ऐसा विभाग की मर्जी से हुआ है.

advt

उनका कहना है कि विभाग के वरीयता सूची से इस बात की साफतौर से पुष्टि होती है कि 40 में से 19 सीआइ ऐसे हैं, जिन्हें जूनियर रहते हुए प्रमोशन देकर सीओ या एएसओ बना दिया गया है. उससे भी चौंकाने वाली बात यह है कि राज्य में 60 से ज्यादा सीओ और एएसओ के पद खाली हैं. लेकिन सारी काबलियत रखते हुए 45 सीआइ को प्रमोशन नहीं दिया गया है.

वरीयता सूची दरकिनार कर हुआ प्रमोशन

प्रमोशन करने से पहले भू राजस्व विभाग की तरफ से एक वरीयता सूची बनायी गयी थी. उसी सूची के मुताबिक, प्रमोशन दिया जाना था. लेकिन ऐसा नहीं किया गया. वरीयता सूची को दरकिनार कर विभाग की तरफ से प्रमोशन देने का काम किया गया.

जो कि सरासर गलत है. जबकि ऐसे मामलों के लिए सुप्रीम कोर्ट के कई आदेश हैं. जिसमें साफ कहा गया है कि कोई भी विभाग जूनियर को प्रमोशन देकर सीनियर नहीं बना सकता.

इसे भी पढ़ें – बजट सत्र के पहले राजनीतिक किचकिच चरम पर, नेता प्रतिपक्ष को लेकर बीजेपी और जेएमएम में ठनी

क्या कहता है सुप्रीम कोर्ट का आदेश

ऐसे ही मामले की सुनवाई करते हुए 17 अप्रैल 2017 को सुप्रीम कोर्ट का एक आदेश आया था. आदेश में साफ कहा गया कि किसी भी हाल में जूनियर को प्रमोशन देकर सीनियर नहीं बनाया जा सकता. ऐसा करने से सीनियर को जूनियर के अंदर काम करना पड़ सकता है. जो कि गलत है.

ऐसा ही एक आदेश पांच दिसंबर 2013 को भी सुप्रीम कोर्ट की तरफ से आया था. लेकिन झारखंड में राजस्व विभाग में प्रमोशन देने के मामले में ऐसा ही हुआ है. 40 सीआइ को प्रमोशन दिया गया है. जिसमें से कई जूनिय़र सीआइ को प्रमोट करते हुए सीनियर बना दिया गया है.

इसे भी पढ़ें – 2018 में पांच लाख नये बिजली मीटर का वर्क ऑर्डर नहीं हुआ पूरा, JBVNL को करोड़ों का नुकसान

advt
Adv

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: