Khas-KhabarNational

जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला से ED की पूछताछ, उमर ने केंद्र पर साधा निशाना

जम्मू-कश्मीर क्रिकेट संघ में 113 करोड़ की गड़बड़ी के मामले में हुई पूछताछ

ShriNagar: जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला से ईडी पूछताछ कर रही है. ये सवाल जवाब जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन में पैसों की गड़बड़ी को लेकर हुई. बता दें कि इससे पहले भी फारूक अब्दुल्ला से इस मामले में पूछताछ हो चुकी है. वहीं इस मामले को लेकर जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है.

Jharkhand Rai

इसे भी पढ़ेंः बलिया गोलीकांडः 14 दिनों के लिए जेल भेजा गया मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप

113 करोड़ का घोटाला

बता दें कि जम्मू-कश्मीर क्रिकेट संघ में 113 करोड़ की धांधली का मामला काफी पुराना है. पहले इसकी जांच राज्य की पुलिस कर रही थी. जिसके बाद कोर्ट ने इसे सीबीआइ को सौंपा और बाद में इस पूरे केस में ईडी की इंट्री हुई.  ईडी ने सीबीआई की प्राथमिकी के आधार पर यह मामला दर्ज किया है. सीबीआई ने जेकेसीए के महासचिव मोहम्मद सलीम खान और पूर्व कोषाध्यक्ष एहसान अहमद मिर्जा समेत कई पदाधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था.

सीबीआई ने 2002 से 2011 के बीच भारतीय क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड (बीसीसीआई) द्वारा खेल को बढ़ावा देने के लिये जेकेसीए को दिये गए अनुदान में से 43.69 करोड़ रुपये के गबन के मामले में अब्दुल्ला, खान, मिर्जा के अलावा मीर मंजूर गजनफर अली, बशीर अहमद मिसगार और गुलजार अहमद बेग (जेकेसीए के पूर्व अकाउंटेंट) के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया था.

Samford

प्रवर्तन निदेशालय ने जम्मू-कश्मीर क्रिकेट संघ के फंड में कथित गबन से संबंधित धन शोधन के एक मामले में सोमवार को जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला से पूछताछ की. पहले की तरह धनशोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत नेशनल कान्फ्रेंस के अध्यक्ष अब्दुल्ला का बयान दर्ज किया जाएगा. ईडी ने कहा कि उसकी जांच में सामने आया है कि जेकेसीए को वित्त वर्षों 2005-2006 और 2011-2012 (दिसंबर 2011 तक) के दौरान तीन अलग-अलग बैंक खातों के जरिये बीसीसीआई से 94.06 करोड़ रुपये मिले.
इसे भी पढ़ेंः बिहार चुनाव : तेजस्वी के बयान से मची हलचल, कहा, नीतीश कुमार ने चिराग पासवान के साथ अन्याय किया है

उमर ने केंद्र पर निशाना साधा

वहीं पूरे मामले को लेकर फारूक के बेटे और पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने केंद्र पर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट किया कि नेशनल कान्फ्रेंस जल्द ही ईडी के समनों का जवाब देगी. उन्होंने ट्वीट किया, ‘यह कुछ और नहीं बल्कि ‘गुपकर घोषणा’ के तहत ‘पीपुल्स अलायंस’ के गठन के बाद की जा रही प्रतिशोध की राजनीति है.’

इसे भी पढ़ेंः आक्रमणक गेंदबाजी के अगुआ बुमराह ने मलिंगा से जिम्मेदारी संभाल ली है: पोलार्ड

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: