JharkhandMain SliderRanchi

पूर्व DGP डीके पांडेय की पत्नी समेत 17 लोगों की जमीन पर प्रशासन करेगा कब्जा, तोड़ा जाएगा निर्माण

Ranchi : पूर्व डीजीपी डीके पांडेय की पत्नी पूनम पांडेय ने 51 डिसमिल जमीन ली है. वह प्लॉट गैरमजरुवा नेचर का है. वह कांके अंचल के हल्का-03, चामा मौजा के खाता संख्या-87 और प्लॉट संख्या-1232 है. पूनम पांडेय को यह जमीन आमोद कुमार, पिता- राम नारायण शर्मा, बस कोचा, जगन्नाथपुर, रांची ने बेची थी.

इसे भी पढ़ें- डीजीपी डीके पांडेय ने पत्नी के नाम पर खरीदी 51 डिसमिल जीएम लैंड!

जमीन कब्जा कर तोड़ा जाएगा निर्माण

Catalyst IAS
ram janam hospital

इस गैर मजरुवा जमीन का म्यूटेशन करा कर इसे रैयत प्लॉट में तब्दील कर दिया गया है. इसी मामले को लेकर रांची डीसी राय महिमापर रे ने कांके अंचल के सीओ अनिल कुमार को अवैध जमाबंदी रद्द करने का आदेश दिया है.

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

डीसी ने मामले को लेकर बताया कि जमाबंदी रद्द होने के बाद प्रशासन के द्वारा जमीन को अपने कब्जे में में लेने की कार्रवाई की जाएगी. वहीं जमीन पर जो भी निर्माण किया गया है उसे अतिक्रमण मानकर प्रशासन तोड़ने की भी कार्रवाई कर सकता है.

हांलाकि जिन लोगं ने जमीन का म्यूटेशन कराया हैं इनकी जामाबंदी को रद्द करने से पहले पूर्व कांके सीओ के स्तर से नोटिस भेजकर जवाब मांगा जाएगा.

इसे भी पढ़ें- Police Housing Colony: पूर्व DGP डीके पांडेय की पत्नी पूनम पांडेय की जमीन की CBI जांच को लेकर PIL

न्यूज विंग की खबर का असर

गौरतलब है कि न्यूज विंग की तरफ से लगातार इस मामले में कई खुलासे होते रहे हैं. जिसके बाद न्यूज विंग की खबर पर जांच हुई. जिसके बाद यह तथ्य सच पाया गया कि पूर्व डीजीपी डीके पांडेय की पत्नी पूनम पांडेय ने जो जमीन खरीदी है, वह गैर मजरुआ नेचर की है. उसकी खरीद-बिक्री नहीं हो सकती. इसकी पुष्टि रांची के डीसी राय महिमापत रे ने की है.

न्यूज विंग द्वारा खबरें प्रकाशित करने के बाद रांची के डीसी ने मामले की जांच के आदेश दिये. जांच के लिये कमेटी का गठन किया. कमेटी ने अपनी रिपोर्ट दे दी है.

इसे भी पढ़ें- NEWS WING IMPACT: DC रांची ने बनायी पूर्व DGP डीके पांडेय की पत्नी की जमीन जांचने के लिए कमेटी,…

जिसमें इस बात की पुष्टि हुई है कि जिस जमीन को डीजीपी की पत्नी ने खरीदी है और उस पर आलीशान मकान बनवाया है, उस जमीन की खरीद-बिक्री नहीं हो सकती.

जांच में इस बात की भी पुष्टि हुई है कि गैर मजरुआ जमीन की रजिस्ट्री गलत तरीके से की गयी है. जांच रिपोर्ट के साथ कमेटी ने अनुशंसा की है कि जमीन की जमाबंदी भी रद्द की जायेगी. साथ ही जो मकान बनाया गया है, उसे अतिक्रमण माना जायेगा.

इसे भी पढ़ें- डीजीपी की पत्नी ने ली जमीन तो खुल गया टीओपी और ट्रैफिक पोस्ट, हो रहा पुलिस के नाम व साइन बोर्ड का…

खाता 87 के 40 और प्लॉट नंबर 1232 के दो एकड़ जमीन लैंड बैंक में

जिस 87 नंबर के खाते में पूर्व डीजीपी की पत्नी पूनम पांडेय की जमीन है. उस खाता की 40 एकड़ जमीन लैंड बैंक में है. वहीं जिस प्लॉट से पूर्व डीजीपी ने जमीन ली है. उस प्लॉट की दो एकड़ जमीन लैंड बैंक में है.

इसे भी पढ़ें- Police Housing Colony: DGP डीके पांडे की पत्नी ने पहले करायी फर्जी तरीके से जमीन की रजिस्ट्री फिर…

जाहिर सी बात है कि पूनम पांडेय की जमीन भी लैंड बैंक में ही है. जमीन मामलों के कुछ जानकारों का कहना है कि अगर जमीन जीएम लैंड है और सरकार की तरफ से प्रतिबंधित है, तो निश्चित तौर से इस जमीन की ना ही रजिस्ट्री हो सकती है और ना ही म्यूटेशन.

इसे भी पढ़ें- Police Housing Colony: सरकारी लैंड बैंक में है पूर्व DGP डीके पांडेय की पत्नी पूनम पांडये की जमीन

Related Articles

Back to top button