JharkhandRanchi

SOR तय होने से पहले पेयजल योजनाओं की औपचारिकताएं होंगी पूरी, मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने कहा- 100 फीसदी राशि करनी है खर्च  

Ranchi : राज्य में SOR तय (Schedule of Rate, अनुसूचित दर) किये जाने की प्रक्रिया जारी है. पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर ने पुराने एसओआर पर अनुमति या नये एसओआर के अनुमोदित होने से पहले विभाग को अपनी तैयारी बनाये रखने के निर्देश जारी किये हैं. गुरुवार को विभागीय समीक्षा के बाद उन्होंने विभागीय पदाधिकारियों को जल जीवन मिशन और राज्य योजना अंतर्गत योजनाओं की स्वीकृति से संबंधित सभी औपचारिकताओं को पूरा किये जाने को कहा. मिथिलेश ठाकुर ने कहा कि इससे योजनाओं की स्वीकृति और निविदा की प्रक्रिया पर तेजी के कार्रवाई की जा सकेगी. साथ ही इस वित्तीय वर्ष के अंत तक शत-प्रतिशत राशि खर्च करने का टारगेट पूरा किया जा सकेगा.

इसे भी पढ़ें – जीएसटी के 2500 करोड़ के साथ 50,000 एकड़ भूमि के एवज में 45,000 करोड़ का भुगतान करे केंद्र : डॉ उरांव

पंचायतों में लगने हैं 5-5 चापाकल

Catalyst IAS
ram janam hospital

विभागीय समीक्षा के क्रम में राज्य में चल रही जलापूर्ति योजनाओं पर चर्चा हुई. साथ ही पंचायतों में चापाकल लगाये जाने और नलकूपों की मरम्मति कार्यों पर भी विमर्श हुआ. जारी वित्तीय वर्ष में पेयजल विभाग ने राज्य की सभी पंचायतों में 5-5 चापाकल लगाये जाने की योजना बना रखी है.

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

इसे भी पढ़ें – करमा पूजा पर इस बार अखड़ा में नहीं लगेगी भीड़, जनजातीय संगठनों ने कहा- तीन दिनों का राजकीय अवकाश घोषित करे सरकार

अधूरी पड़ी जलापूर्ति योजनाओं पर होगा काम

पेयजल विभाग की ओर से राज्य के विभिन्न शहरों और ग्रामीण क्षेत्र में जलापूर्ति योजनाएं चलायी जा रही हैं. कुछ जगहों पर जलापूर्ति योजनाएं अपने निर्धारित समय के 6 महीने बाद भी पूरी नहीं हो पायी हैं. ऐसी योजनाओं की समीक्षा पेयजल विभाग करेगा. इसके बाद योजनाओं को पूरा किये जाने पर काम आगे बढ़ाया जायेगा.

समीक्षा बैठक में पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सचिव प्रशांत कुमार, इंजीनियर इन चीफ श्वेताभ कुमार, चीफ इंजीनियर (सीडीओ) उमेश गुप्ता और पीएमयू के चीफ इंजीनियर संजय कुमार झा भी उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें – दो कार्यपालक अभियंताओं को बनाया गया रांची नगर निगम का टाउन प्लानर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button