न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

NEWS WING IMPACT: वन विकास निगम काटेगा बोकारो एयरपोर्ट के लिए पेड़, पेड़ कटाई को लेकर लटका हुआ था काम

337

Ranchi/Bokaro: देर से ही सही, लेकिन अब जा कर यह साफ हुआ है कि बोकारो में निर्माणाधीन एयरपोर्ट के लिए पेड़ों की कटाई कौन करेगा. इससे पहले न ही एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया न ही बोकारो प्रशासन और न ही परिवहन एवं नागर विमानन विभाग को पता था कि एयरपोर्ट के लिए पेड़ों की कटाई कौन करेगा. पेड़ों की कटाई को लेकर सचिवालय से लगातार पत्राचार का दौर जारी था. काफी मंथन के बाद यह साफ हो पाया है कि बोकारो एयरपोर्ट के लिए पेड़ों की कटाई वन विकास निगम करेगा. मामले को लेकर न्यूज विंग ने पांच जनवरी 2019 को “हवा में लटका बोकारो हवाईअड्डा! किसी को पता ही नहीं कौन काटेगा एयरपोर्ट निर्माण के लिए पेड़” शीर्षक से खबर प्रसारित की थी. खबर के प्रसारित होने के बाद से मामले से संबंधित अधिकारी रेस हुए और तय हुआ कि वन विकास निगम एयरपोर्ट के लिए पेड़ों की कटाई करेगा.

चार महीने में एयरपोर्ट बनने का दावा निकला फर्जी, लगेगा वक्त

भले ही इस बात से पर्दा उठ गया हो कि पेड़ों की कटाई कौन करेगा. लेकिन दूसरी तरफ यह भी तय हो गया है कि चार महीने में एयरपोर्ट बनाने का दावा फर्जी था. 23 अप्रैल 2018 को स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया (सेल) और एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एएआइ) के बीच एक करार हुआ था. तीन साल तक एएआइ एयरपोर्ट को चलाने के बाद एएआइ फिर से एयरपोर्ट का सारा जिम्मा सेल को सौंप देती. 25 अगस्त 2018 को झारखंड में बीजेपी सरकार के मुखिया रघुवर दास, केंद्रीय नागर विमानन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा के अलावा आस-पास के विधानसभा क्षेत्र के विधायक और मंत्री की गवाही में दावा किया गया कि दिसंबर 2018 से बोकारो एयरपोर्ट से विमान सेवा शुरू कर दी जाएगी. लेकिन जनवरी खत्म हो गया. अभी तक पेड़ों की कटाई भी नहीं हो सकी है. एएआइ ने वन विकास निगम को पेड़ों की कटाई के लिए एप्रोच किया है. निगम इस संबंध में अपनी तैयारी कर रहा है. पहले रेट डिसाइड होगा. फिर टेंडर निकलेगा. टेंडर की प्रक्रिया पूरी होगी. उसके बाद ही पेड़ों की कटाई का काम शुरू हो पाएगा. इन सभी कामों में छह महीने तक का वक्त लग सकता है. ऐसे में बोकारो एयरपोर्ट से उड़ान भरने का सपना अभी काफी दूर है.

चल रही है टेंडर निकलने की प्रक्रियाः कुलवंत सिंह, एमडी वन विकास निगम

न्यूज विंग से बात करते हुए वन विकास निगम के एमडी कुलवंत सिंह ने कहा है कि बोकारो एयरपोर्ट के लिए पेड़ों को काटने का काम वन विकास निगम को करना है. इसके लिए निगम का गिरिडीह रेंज काम करेगा. मेरे स्तर से अधीनस्थ अधिकारियों को निर्देश दे दिया जा चुका है. इस काम के लिए टेंडर निकाला जाएगा. टेंडर की प्रक्रिया पूरी होने पर पेड़ों की कटाई शुरू हो जाएगी. इस काम को गिरिडीह रेंज के रिजनल मैनेजर एके सिंह देख रहे हैं.

जेएमएम ने दी थी आंदोलन की धमकी

बोकारो एयरपोर्ट को लेकर राजनीति गर्म होने लगी थी. बोकारो एयरपोर्ट विधायक बिरंची नारायण के लिए एक बड़ा इश्यू है. जेएमएम एयरपोर्ट निर्माण में हो रही देरी को लेकर आंदोलन करने की तैयारी में था. जेएमएम ने ऐलान किया था कि शिबू सोरेन के जन्मदिन के दिन से एयरपोर्ट को लेकर जेएमएम सड़क पर उतेरगा. वहीं डुमरी विधायक और जगरनाथ महतो ने धनबाद सांसद पर आरोप लगाया था कि सांसद नहीं चाहते है कि बोकारो में एयरपोर्ट बने. जगरनाथ महतो का कहना था कि सांसद एयरपोर्ट को धनबाद ले जाना चाहते हैं. जेएमएम ने बोकारो प्रशासन पर निर्माण कार्य में हो रही देरी के लिए जिम्मेदार ठहराया था.

इसे भी पढ़ें – हवा में लटका बोकारो हवाईअड्डा ! किसी को पता ही नहीं कौन काटेगा एयरपोर्ट निर्माण के लिए पेड़

इसे भी पढ़ें – सीओ विनय ने पत्नी के नाम अवैध तरीके से खरीदी 30 एकड़ जमीन, अब चलेगी विभागीय कार्यवाही

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: