RanchiTop Story

वन विभाग के अफसर निशानेबाजी में होंगे पारंगत, प्रैक्टिस के लिए चाहिये टेलीस्कोप वाली एयर रायफल

Ranchi: वन विभाग के अफसरों का निशाना कमजोर होता जा रहा है. अब वे निशाना साधने की प्रैक्टिस करेंगे. इसके लिये उन्हें टेलीस्कोप वाली रायफल चाहिये. साथ ही अफसरों को और दो ड्रॉट ट्रैंक्विलाइज़र गन (बंदूक) की भी जरूरत है. इसकी खरीदारी के लिये वन विभाग ने टेंडर निकाला है. टेंडर पांच मार्च को अपराह्न तीन बजे खुलेगा. वजह यह है कि ट्रांक्विलाइजर गन चलाने से पहले एयर रायफल से निशाना साधने की प्रैक्टिस की जायेगी. ताकि जंगली जानवरों पर निशाना सटीक लगे.

निकाले गये टेंडर की कॉपी

क्या है ड्रॉट ट्रैंक्विलाइज़र गन

यह जानवरों को बेहाश करने वाली बंदूक है. इसमें ड्रॉट एक सीरिंज की तरह होता है. इसमें बेहोशी की दवा भर कर जंगली जानवरों पर निशाना साधा जाता है. निशाना लगाते ही खतरनाक जंगली जानवर बेहोश हो जाते हैं. लेकिन इस जंगली जानवरों पर सटीक निशाना साधने से पहले अफसर, रेंजर और वनपाल निशाना साधने की प्रैक्टिस करेंगे. ताकि खतरनाक जंगली जानवरों से निपटा जा सके. एक ड्रॉट ट्रांक्विलाइजर गन की कीमत लगभग चार लाख रुपये तक है.

advt

पहले एक-47 खरीदने का था प्रस्ताव

इससे पहले वन विभाग ने एके-47 और रायफल खरीदने की योजना बनाई थी. इसके लिये वन विभाग ने मद्रास ऑडेनेंश ( हथियार बनाने वाली भारत सरकार की फैक्ट्री) के पास राशि जमा की थी. इसके बाद मद्रास ऑडेनेंश ने केंद्रीय गृह मंत्रालय को इसकी जानकारी दी. गृह मंत्रालय ने वन विभाग से इस पर अनापत्ति प्रमाण पत्र मांगा. लेकिन वन विभाग ने अब तक इसका जवाब नहीं दिया.

क्या थी एके 47 नहीं मिलने की वजह

राज्य के वन विभाग ने हथियार रखने के लिये अब तक नियमावली नहीं बनायी है. नियमावली नहीं बनने की वजह से पद का सृजन भी नहीं हुआ. वहीं लाइसेंस के लिये प्रशिक्षण भी अनिवार्य है. यही वजह है कि लाइसेंस भी नहीं मिल पाया. दूसरी ओर फॉरेस्ट एक्ट में हथियार रखने का प्रावधान नहीं है. इसके लिये भी अलग से नियमावली की जरूरत है.

क्या खासियत होगी ड्रॉट ट्रैंक्विलाइज़र गन की

वजन: 3.5 किलोग्राम
बैरल के साथ लंबाई: 100 से 115 सेंटीमीटर
रेंज: 130 मीटर
वोल्यूम: 1 सीसी से 20 सीसी
एनर्जी: कायनेटिक एनर्जी टेलीस्कोप के साथ

एयर रायफल की खासियत

वजन: 1 किलोग्राम से 1.1 किलोग्राम
बैरल की लंबाई: 400 से 450 मिलीमीटर
कैलिवर: 4 एमएम/ 0.160 से 4.5 एमएम/0.171
कुल लंबाई: 1050 मिलीमीटर से 1065 मिलीमीटर

इसे भी पढ़ेंः खूंटी: रनिया पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, एक नक्सली ढेर

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: