न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

विदेश मंत्री एस जयशंकर  बीजिंग पहुंचे, चार एमओयू पर हस्ताक्षर होने की उम्मीद

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की शुरुआत के बाद एस  जयशंकर चीन का दौरा करने वाले पहले भारतीय मंत्री हैं.

76

Beijing  : विदेश मंत्री एस जयशंकर  तीन दिवसीय दौरे पर रविवार को बीजिंग पहुंचे.  उनकी यात्रा के दौरान इस साल राष्ट्रपति शी चिनफिंग के भारत दौरे के इंतजाम को अंतिम रूप देने सहित कई मुद्दों पर बातचीत होगी. जान लें कि  मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की शुरुआत के बाद एस  जयशंकर चीन का दौरा करने वाले पहले भारतीय मंत्री हैं.  यह दौरा ऐसे समय में हो रहा है, जब भारत ने जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म करते हुए उसे दो केंद्रशासित क्षेत्रों में बांट दिया है.  संविधान के अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को खत्म करने के भारत के फैसले के बहुत पहले उनका दौरा तय हो चुका था. राजनयिक से विदेश मंत्री बने जयशंकर 2009 से 2013 तक चीन में भारत के राजदूत रहे थे. किसी भारतीय दूत का यह सबसे लंबा कार्यकाल था.

द्विपक्षीय व्यापार 100 अरब डॉलर पार करने की उम्मीद

चीनी नेतृत्व के साथ उनकी वार्ता की शुरुआत सोमवार को होगी.  आधिकारिक तौर पर इसकी घोषणा नहीं की गयी है कि किन नेताओं के साथ उनकी बैठक होगी . वह चीनी स्टेट काउंसलर और विदेश मंत्री वांग यी के साथ भी द्विपक्षीय वार्ता करेंगे. बाद में दोनों मंत्री सांस्कृतिक और लोगों के आपसी संपर्क पर उच्च स्तरीय तंत्र की दूसरी बैठक की सह अध्यक्षता करेंगे. पहली बैठक पिछले साल दिल्ली में हुई थी.  जयशंकर की यात्रा के दौरान चार सहमति पत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर होने की उम्मीद है .

Related Posts

मोदी सरकार खुफिया अफसरों के माध्यम से  महबूबा मुफ्ती  और उमर अब्दुल्ला का रुख भांप रही है!

केंद्र सरकार  घाटी में शांति और सद्भाव स्थापित करने के मकसद से राज्य दो पूर्व मुख्यमंत्रियों को साधने की कोशिश में जुटी है.

SMILE

अधिकारियों ने बताया कि वांग के साथ उनकी वार्ता के दौरान राष्ट्रपति के इस साल दूसरी अनौपचारिक वार्ता के लिए दौरे के इंतजामों को अंतिम रूप देने के मुद्दे पर भी बातचीत होगी.   2017 में डोकलाम में 73 दिनों तक चले गतिरोध के बाद मोदी और शी ने पिछले साल वुहान में पहली अनौपचारिक वार्ता कर द्विपक्षीय संबंधों गति दी थी.  अधिकारियों को इस साल पहली बार द्विपक्षीय व्यापार 100 अरब डॉलर पार करने की उम्मीद है .

इसे भी पढ़ें- सोनिया गांधी बनीं कांग्रेस की नयी अंतरिम अध्यक्ष, CWC की मीटिंग में हुआ फैसला

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: