न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Forbes ने जारी की सूची, अजीम प्रेमजी एशिया के सबसे बड़े दानवीर, दान किये  52,750 करोड़ रुपये

2018 में प्रेमजी के पास 21 अरब डॉलर की संपत्ति थी. दान की वजह से ही हाल ही में प्रेमजी अमीरों की सूची में दूसरे नंबर से फिसलकर 17वें नंबर पर आ गये थे.

83

NewDelhi : फोर्ब्स ने एशिया के 30 सबसे बड़े दानवीरों की सूची जारी की है. सूची के अनुसार विप्रो लिमिटेड के संस्थापक और फाउंडर चेयरमैन अजीम प्रेमजी एशिया के सबसे बड़े दानवीर बन हैं.  फोर्ब्स इंडिया रिच लिस्ट 2019 के अनुसार, प्रेमजी के पास 7.2 अरब डॉलर की संपत्ति है.

2018 में प्रेमजी के पास 21 अरब डॉलर की संपत्ति थी. दान की वजह से ही हाल ही में प्रेमजी अमीरों की सूची में दूसरे नंबर से फिसलकर 17वें नंबर पर आ गये थे. प्रेमजी ने ने विप्रो लिमिटेड के 34 फीसदी शेयर परोपकार कार्य के लिए दान किये थे. इन शेयर का बाजार मूल्य 52,750 करोड़ रुपये है.

Sport House

इसे भी पढ़ें :  #Kolkata :  राज्यपाल धनखड़ विधानसभा पहुंचे, गेट बंद था, दूसरे गेट से गये, कहा, उनका अपमान किया जाता है

  एशिया के दूसरे सबसे बड़े दानवीर  इंडोनेशिया के दिग्गज कारोबारी थीओडोर राचमेट  

बता दें कि फोर्ब्स की इस सूची में उन अरबपतियों, उद्यमियों व सेलिब्रिटीज को शामिल किया गया है, जो क्षेत्र के कुछ सबसे बड़े मुद्दों को हल करने को प्रतिबद्ध हैं. अजीम प्रेमजी के बाद एशिया के दूसरे सबसे बड़े दानवीर की सूची में इंडोनेशिया के दिग्गज कारोबारी थीओडोर राचमेट का नाम है. 76 वर्षीय राचमेट ने साल 2018 से अब तक करीब 50 लाख डॉलर यानी करीब पांच मिलियन डॉलर का दान किया है.

इसे भी पढ़ें :  महंगाई की #Onion पर मार, चुप क्यों है मोदी सरकार.. कांग्रेस  ने संसद में प्रदर्शन किया, पी चिदंबरम भी  शामिल हुए

Mayfair 2-1-2020

 तीसरे पायदान पर मलयेशिया के जेफरी चीआ हैं

फोर्ब्स की इस सूची में तीसरे पायदान पर मलयेशिया के जेफरी चीआ हैं, जो अपनी संपत्ति दान कर वंचितों को शिक्षा दिलाने में जुटे हैं. वहीं चौथे स्थान पर अलीबाबा के चेयरमैन के पद से रिटायर हुए जैक मा हैं. जैक मा फाउंडेशन के जरिए साल 2014 से अबतक उन्होंने 300 मिलियन डॉलर दान या दान का वादा कर चुके हैं.

हाल ही में प्रेमजी ने कहा था कि, मैं पिछले एक साल से परोपकार संबंधी कार्यों से ज्यादा जुड़ गया हूं. जितना मैं इसको देख रहा हूं, उससे ये ही लगता है कि यह कितना जाटिल है. पैसे के बिना भी आप किसी इंसान को कैसे खुश रख सकते हैं और समाजसेवा से आपको कितनी तारीफ मिलती है, यह आप शब्दों में बयां नहीं कर सकते हैं.

इसे भी पढ़ें : #LokSabhaSpeaker ओम बिरला के सुझाव पर संसद की कैंटीन में मिलने वाली सब्सिडी छोड़ने को सांसद  तैयार 

SP Jamshedpur 24/01/2020-30/01/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like