JharkhandRanchi

तीन महीने में पहली बार मीटिंग में साथ-साथ बैठे मेयर और नगर आयुक्त

  • होल्डिंग टैक्स वसूली के लिए एजेंसी चयन के मामले पर कल फिर होगी बैठक

Ranchi : बुधवार को छह महीने बाद रांची नगर निगम बोर्ड की बैठक हुई. करमटोली स्थित सेलिब्रेशन हॉल में हुई इस बैठक में तीन महीने में पहली बार मेयर आशा लकड़ा और नगर आयुक्त मुकेश कुमार साथ-साथ बैठे. बैठक में इनके अलावा डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय समेत वार्ड सदस्य भी शामिल हुए.

इसे भी पढ़ेः PUCL के वेबिनार में ज्यां द्रेज बोले- फादर स्टेन स्वामी को जेल में डालना उनके लिए मृत्युदंड के समान

कोरोना काल के दौरान का सॉलिड वेस्ट यूजर चार्ज नहीं लेने का फैसला

दिन भर चली बैठक के बाद मेयर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि होल्डिंग टैक्स वसूली मामले पर एजेंसी के बारे में गुरुवार को फिर से विचार किया जायेगा. इसके लिए मेयर, डिप्टी मेयर और नगर आयुक्त विशेष तौर पर बैठेंगे. इस दौरान तकनीकी और कानूनी पहलुओं पर बात करते हुए निर्णय लिया जायेगा. लोगों से कोरोना काल की अवधि का सॉलिड वेस्ट यूजर चार्ज नहीं लिये जाने का भी फैसला लिया गया.

तीन महीने में पहली बार मीटिंग में साथ-साथ बैठे मेयर और नगर आयुक्त

इसे भी पढ़ेः JBVNL ने बिजली सप्लाई एरिया के महाप्रबंधक और अधीक्षण अभियंताओं का किया तबादला

पहली बार बोर्ड मीटिंग में शामिल हुए नगर आयुक्त

नगर आयुक्त मुकेश कुमार ने तीन महीने पहले रांची नगर निगम में योगदान दिया था. बुधवार को बोर्ड की हुई बैठक में वह भी शामिल हुए. इससे पहले दो बार मेयर द्वारा बुलायी गयी बैठक में उनकी दिलचस्पी नहीं दिखी थी. बैठक के बाद उन्होंने कहा कि आरएमसी के जनप्रतिनिधि और उनके बीच किसी प्रकार के तालमेल का अभाव नहीं है. उन्होंने कुछ महीने पहले ही योगदान दिया है.

उनके मुताबिक, कोविड संक्रमण के खतरे के कारण बोर्ड की बैठक करना एक चैलेंज था. बोर्ड की बैठक लोकतांत्रिक तरीके से हुई है. गुरुवार को एक बार फिर से वह मेयर और अन्य लोगों के साथ बैठेंगे. इसमें होल्डिंग टैक्स के लिए एजेंसी वाले बिंदु पर विशेष चर्चा होगी. पर्व त्योहार के समय रांची के नागरिकों को अधिक से अधिक सुविधाएं दिये जाने की भी योजना बनी है. लोगों को जल्दी ही इसका लाभ मिलेगा.

इसे भी पढ़ेः MNREGA : 105 दिनों में 3.74 लाख योजनाएं पूरी कराने का दावा

10 जोन में वेंडरों के लिए बनेगी योजना

डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय ने कहा कि कोरोना काल में लोगों को आर्थिक चुनौतियों से जूझना पड़ा है. ऐसे में जो संस्थान, कार्यालय बंद रहे, उनसे सॉलिड वेस्ट यूजर चार्ज नहीं लिया जायेगा. बोर्ड ने इस पर अपनी मुहर लगा दी है. अगले दो से तीन महीने के अंदर नागा बाबा खटाल में वेंडर्स मार्केट बनाये जाने की योजना पर काम आगे बढ़ेगा. रांची में 10 जोन हैं. सभी जोनों के प्रमुखों के साथ बैठक कर वेंडरों के लिए एक आदर्श योजना बनायी जायेगी.

इसे भी पढ़ेः मेदिनीनगर सेंट्रल जेल में दो घंटे तक छापामारी करती रहीं 10 टीमें, नहीं मिला कुछ भी आपत्तिजनक

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: